रायपुर News

रमन ने कहा- ‘पत्थलगड़ी का विरोध नहीं, समाज को तोड़ने वालों को वनवासियों ने भी नकारा’

Last Modified - May 11, 2018, 1:45 pm

रायपुर। मुख्यमंत्री डॉ रमन सिंह ने कहा है कि पत्थलगड़ी झारखंड से शुरु हुई है और यह सैकड़ों साल पुरानी परंपरा है। परंपरागत करने से किसने रोका है लेकिन इस प्रकार संविधान का विरोध किया जा रहा है और लोगों को बंधक बनाया जा रहा है, उस पर कार्रवाई हुई है। उन्होंने कहा कि कुछ लोग विभाजन करना चाहते हैं। छत्तीसगढ़ के वनवासी को भान है, इसलिए समाज को तोड़ने वाले को नकार दिया है।

एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में सीएम ने कहा कि पत्थलगड़ी का विरोध नहीं है, लेकिन उसके वर्तमान स्वरूप का विरोध है। एक सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि ‘सरकार के प्रति कोई नाराजगी नहीं है, इस बार की परिस्थिति पिछले चुनाव से बेहतर है। हम मिशन 69 प्राप्त करेंगे’।

यह भी पढ़ें : राष्ट्रीय व्हील चेयर क्रिकेट में प्रदेश का नाम रौशन करने वाले खिलाड़ियों का सम्मान

विकास यात्रा पर उन्होंने कहा कि ये राजनीतिक यात्रा नहीं है। मैं दल के हिसाब और चेहरा देख कर योजना का लाभ नहीं दे रहा हूं। डॉ रमन ने मोदी की भूमिका कृष्ण की तरह बताते हुए कहा कि वे हमारे मार्गदर्शक हैं। वे हममें उत्साह भरते हैं। उन्होंने कहा कि कोई भी ABC टीम नहीं है।

वेब डेस्क, IBC24


Download IBC24 Mobile Apps

Trending News

IBC24 SwarnaSharda Scholarship 2018

Related News