News

नीरव मोदी स्टाइल में इस बैंक के साथ 155 करोड़ रुपए की धोखाधड़ी, एफआईआर दर्ज

Last Modified - May 12, 2018, 4:02 pm

 

 

नई दिल्लीनीरव मोदी की तरह हरियाणा की एक कंपनी ने ओरिएंटल बैंक ऑफ कॉमर्स (ओबीसी) के साथ 155 करोड़ रुपए की धोखाधड़ी की है। सीबीआई में दर्ज एफआईआर के मुताबिक, इस लकड़ी कंपनी ने कथित तौर पर बैंक बुक में उल्लेख किए बिना फंड ट्रांसफर के लिए इंटरनैशनल बैंकिंग मैसेज का प्रयोग किया और सिंगापुर में अपनी सहायक कंपनी की स्वीकृत क्रेडिट सीमाओं में हेरफेर कर बैंक के साथ धोखाधड़ी की।

 

पंजाब नैशनल बैंक (पीएनबी) के साथ धोखाधड़ी के लिए हीरा कारोबारी नीरव मोदी और मेहुल चौकसी ने भी इसी तरह धोखाधड़ी की थी। अधिकारियों ने बताया कि एमटीपीएल नाम की कंपनी ने आयातित लकड़ी के व्यापार और आवरण में लगे हुए स्टेट बैंक ऑफ इंडिया, ओबीसी और बैंक ऑफ बड़ौदा के एक संघ से 242.09 करोड़ रुपए की क्रेडिट सुविधाओं का लाभ उठाया। बैंक को स्वीकृत नकद क्रेडिट सीमा को बढ़ाकर ओबीसी के साथ धोखाधड़ी की गई।

 

यह भी पढ़ें : गोला-बारूद डिपो के समीप घर बनवा रहे ये भाजपा नेता, सेना ने बताया अवैध

 

बैंक की शिकायत पर सीबीआई ने महेश टिंबर प्राइवेट लिमिटेड (एमटीपीएल) के निदेशकों अशोक मित्तल और निशा मित्तल, बैंक के वरिष्ठ प्रबंधक सुरेंद्र कुमार रंगा के खिलाफ मामला दर्ज किया है। वहीं रंगा को इस मामले में बर्खास्त कर दिया गया है।

 

वेब डेस्क, IBC24

 


Download IBC24 Mobile Apps

Trending News

IBC24 SwarnaSharda Scholarship 2018

Related News