News

चीन ने परीक्षण के लिए समुद्र में उतारा स्वदेशी एयरक्राफ्ट कैरियर

Created at - May 13, 2018, 7:37 pm
Modified at - May 13, 2018, 7:37 pm

पेइचिंग। चीन ने रविवार को अपने देश में बना पहला एयरक्राफ्ट कैरियर समंदर में परीक्षण के लिए उतार दिया है। चीन के सरकारी मीडिया के मुताबिक यह पूरी तरह से देश में ही विकसित किया गया है। यह एयरक्राफ्ट कैरियर रविवार सुबह समुद्र में रवाना हो गया, जहां इसे परखा जाएगा। इससे पहले चीन ने अप्रैल को 2017 में दूसरा एयरक्राफ्ट कैरियर लॉन्च किया था। उसने 2012 में पहले एयरक्राफ्ट कैरियर लिआओनिंग को अपनी नौसेना में शामिल किया था। यह सोवियत संघ में बना है, जिसे दुरूस्त करके शामिल किया गया था।

खबर के मुताबिक, चीन शंघाई में अपना तीसरा एयरक्राफ्ट कैरियर बना रहा है। दरअसल चीन ने विवादित दक्षिण चीन सागर के साथ-साथ हिंद महासागर से संचालित होने के लिए 2030 तक 4 एयरक्राफ्ट कैरियर की योजना बनाई है। खबरों की मानें तो चीन परमाणु विमान वाहक पोत बनाने की भी योजना में है।

यह भी पढ़ें : फैज़ अहमद फैज़ की बेटी को दिल्ली में कार्यक्रम में शामिल होने से रोका गया, विवाद

इधर चीनी नौसेना ने एयरक्राफ्ट की जानकारी देते हुए एक बयान में कहा कि एयरक्राफ्ट के ट्रायल का लक्ष्य उसकी विश्वसनीयता और क्षमता को परखना है। यह एयरक्राफ्ट कैरियर 50,000 मेट्रिक टन वजनी है। इस एयरक्राफ्ट कैरियर को पिछले साल लॉन्च तो कर दिया गया था, लेकिन उसके बाद से इसमें हथियारों और दूसरे सिस्टम्स की फिटिंग की जा रही थी।

इस नए चीनी एयरक्राफ्ट कैरियर पर 12,000 से ज्यादा उपकरण लगे हुए हैं। रिपोर्ट में बताया गया है कि इन इक्विपमेंट्स को चीन की 532 फर्मों ने बनाया है, जिनमें से कई निजी फर्म हैं। एयरक्राफ्ट कैरियर में 3,600 से ज्यादा केबिन हैं। देशभर के करीब 3,000 वर्कर इस एयरक्राफ्ट पर डेली बेसिस पर काम कर रहे थे।

यह भी पढ़ें : कांग्रेस कार्यकर्ताओं पर पुनिया हुए नाराज, कहा- ‘केवल फोटो खिंचवाने से पार्टी मजबूत नही हो जाती’

बता दें कि दुनिया के कुछ ही देशों के पास एयरक्राफ्ट कैरयर्स हैं। इस क्लब में भारत भी शामिल है। अमेरिका, रूस, चीन, भारत, ब्रिटेन, फ्रांस, इटली और थाइलैंड के पास ही एयरक्राफ्ट कैरियर हैं। भारत के अलावा दुनिया भर में अभी 18 से 20 एयरक्राफ्ट कैरियर हैं। सबसे ज्यादा 11 एयरक्राफ्ट कैरियर अमेरिका के पास है और सभी परमाणु क्षमता से लैस हैं।

वेब डेस्क, IBC24


Download IBC24 Mobile Apps

Trending News

Related News