भोपाल News

एमपी बोर्ड 12वीं का रिजल्ट 68.07%, 10वीं का 66.54% पिछले साल से बेहतर रहे परिणाम

Last Modified - May 14, 2018, 5:29 pm

भोपाल। मध्य प्रदेश माध्यमिक शिक्षा मंडल (माशिमं) के 10वीं और 12वीं के आज घोषित नतीजों में हाईस्कूल का रिजल्ट 66.54 प्रतिशत रहा, जो पिछले साल की तुलना में 16.68 प्रतिशत ज्यादा है। 12th में 68 प्रतिशत रिजल्ट आया है। फर्स्ट डिवीजन में 11 प्रतिशत वृद्धि हुई है।

परिणामों को देखें तो सेकंड डिवीजन में 9 प्रतिशत बढ़ोतरी हुई है। सरकारी स्कूलों में 75 प्रतिशत रिजल्ट रहा। मेरिट में लड़कियों ने बाजी मारी है। हायर सेकेंडरी का रिजल्ट 68.07 प्रतिशत रहा। 

यह भी पढ़ें : ‘प्रधानमंत्री धमका रहे हैं कांग्रेस को’, मनमोहन समेत नेताओं ने लिखा राष्ट्रपति को पत्र

बता दें कि माध्यमिक शिक्षा मंडल (माशिमं) ने पहली बार इस वर्ष से 'बेस्ट ऑफ फाइव योजना' लागू की है। इस के तहत कक्षा 10वीं के विद्यार्थियों के परीक्षा परिणाम की गणना 5 विषय में की गई। अगर 6 विषयों में परीक्षा दी, उनमें से पांच विषयों में जिसमें सबसे अधिक अंक आए हैं उसे ही परीक्षा परिणाम की गणना में जोड़ा गया। अगर कोई विद्यार्थी एक विषय में फेल भी हो गया और अन्य पांच में पास है तो वह उत्तीर्ण माना गया

यह लगातार दूसरा मौका है जब 10वीं और 12वीं दोनों परीक्षाओं का रिजल्ट एक साथ हुआ है। पिछले साल मई के दूसरे सप्ताह यानी 12 मई को नतीजे जारी हो गए थे। इस बार एमपी बोर्ड 10वीं की परीक्षा 5 मार्च से 31 मार्च तक चली थी। वहीं 12वीं की परीक्षा 1 मार्च से 3 अप्रैल तक चली। दोनों क्लासों की परीक्षा एक ही शिफ्ट में आयोजित हुई थीं।

यह भी पढ़ें : पश्चिम बंगाल पंचायत चुनाव में हिंसा, 7 की मौत, 50 घायल, बूथ कैप्चरिंग भी

बोर्ड की परीक्षाओं में कक्षा 12वीं के 7, 69, 000 विद्यार्थी और 10वीं के 11 40, 800 विद्यार्थी परीक्षा में बैठे थे।  पिछले साल यानी 2017 में 10वीं में आधे विद्यार्थी फेल हो गए थे। पिछले साल सिर्फ 49.86 प्रतिशत विद्यार्थी ही 10वीं में पास हो पाए थे। वहीं 2016 में 53.87 प्रतिशत विद्यार्थी पास हो पाए थे। 2015 में नतीजे और भी खराब रहे थे तब 47.04 प्रतिशत स्टूडेंट्स ही उत्तीर्ण हो पाए थे। 2014 में यह प्रतिशत 54.14 रहा था। 

वेब डेस्क, IBC24


Download IBC24 Mobile Apps

Trending News

IBC24 SwarnaSharda Scholarship 2018

Related News