IBC-24

सुनंदा पुष्कर केस में पुलिस ने पेश की चार्जशीट, थरुर को बताया संदिग्ध आरोपी

Reported By: Pushpraj Sisodiya, Edited By: Pushpraj Sisodiya

Published on 14 May 2018 07:39 PM, Updated On 14 May 2018 07:39 PM

नई दिल्ली। कांग्रेस नेता शशि थरुर की मुश्किलें बढ़ सकती है क्योंकि उनकी पत्नी सुनंदा पुष्कर की मौत मामले में 4 साल बाद दिल्ली पुलिस ने कोर्ट में चार्जशीट पेश कर दी है। पटियाला हाउस कोर्ट में पेश चार्जशीट में पुलिस ने थरूर को संदिग्ध आरोपी माना है। उनके अलावा इस चार्जशीट में कोई भी आरोपी नहीं है। यह चार्जशीट 3000 पेज की है। आईपीसी की धारा 306 और 498A के तहत चार्जशीट पेश की गई है। चार्जशीट को शशी थरूर ने अकल्पनीय बताया है।

इस चार्जशीट पर पटियाला हाउस कोर्ट 24 मई संज्ञान लेगा। अदालत इसी दिन शशि थरूर को समन भी कर सकता है। बीजेपी नेता सुब्रमण्यम स्वामी ने कहा कि ‘इस केस से जुड़े सभी गवाहों और दस्तावेजों को यूपीए सरकार और भ्रष्ट पुलिस ने नष्ट कर दिया था। वर्तमान साक्ष्य के आधार पर चार्जशीट दाखिल हुई है। ट्रायल के दौरान अधिक सूचनाएं सामने आएंगी।

यह भी पढ़ें : पुनिया का बड़ा बयान- ‘कांग्रेस को संकल्प शिविर में नहीं मिल रही सुरक्षा’

 

बता दें कि शशि थरूर पर अपनी पत्नी को आत्महत्या करने के लिए मजबूर करने का आरोप है। 17 जनवरी, 2014 की रात दिल्ली के एक 5 स्टार होटल के कमरे में थरूर की पत्नी सुनंदा पुष्कर मृत मिली थीं। बताया गया कि इससे एक दिन पूर्व पाकिस्तानी पत्रकार मेहर तरार और सुनंदा के बीच ट्विटर पर बहस हुई थी। बहस के पीछे थरूर के साथ मेहर का कथित अफेयर वजह थी।

मामले में कई व्यक्तियों से पूछताछ की जा चुकी है। यहां तक कि बिसरा को दोबारा जांच के लिए एफबीआई लैब में जांच के लिए अमेरिका भी भेजा गया लेकिन कोई जानकारी हासिल नहीं हुई थी।

यह भी पढ़ें : दो दर्जन आईपीएस के तबादले, देखिए पूरी सूची

 

एम्स के मेडिकल बोर्ड ने 29 सितंबर 2014 को सुनंदा के शव की जोपोस्टमार्टम रिपोर्ट दिल्ली पुलिस को सौंपी थी, उसमें कहा गया कि सुनंदा की मौत जहर से हुई है। बोर्ड के मुताबिक ‘कई ऐसे रसायन हैं जो पेट में जाने या खून में मिलने के बाद जहर बन जाते हैं। इसलिए उनके वास्तविक रूप के बारे में पता लगाना बहुत मुश्किल होता है’।

वेब डेस्क, IBC24

Web Title : Sunanda Pushkar Case :

ibc-24