News

कान्स फिल्म फेस्टिवल में मल्लिका शेरावत ने खुद को किया पिंजरे में बंद

Created at - May 15, 2018, 2:16 pm
Modified at - May 15, 2018, 2:16 pm

फ्रांस। अभिनेत्री मल्लिका शेरावत अंतरराष्ट्रीय एनजीओ फ्री ए गर्ल इंडिया' की अंबेसडर हैं. ये संस्था मानव तस्करी और बच्चों के कमर्शियल यौन शोषण के खिलाफ लड़ता हैं. इसी क्रम में 71वें कान फिल्म फेस्टिवल 2018 में जबरदस्ती बाल वेश्यावृत्ति जैसे भयानक अपराध पर जागरूकता फैलाने का काम किया जा रहा है. फ्री ए गर्ल्स लॉक-मी-अप अभियान के हिस्से के रूप में, मल्लिका ने इस मुद्दे पर दुनिया का ध्यान खींचने के लिए कान्स में 12x8 फीट छोटे पिंजरे में खुद को बंद कर लिया.

आपको बता दें कि कान्स में मल्लिका का ये नौवां वर्ष है। इस बारे में मल्लिका कहती है कि दुनिया भर में बाल वेश्यावृत्ति के मुद्दे को उठाने के लिए कान्स से बड़ा मंचों नहीं।मै खुद . एक पिंजरे में बंद हो कर कल्पना करना चाहती थी कि कैसे युवा लड़कियों की तस्करी की जा रही हैं और कैसे वे 12x8 फुट के कमरे में फंस गई हैं. इन निर्दोष पीड़ितों को बिना किसी सहायता के जीना पडता है. किसी भी बदलाव की उम्मीद के बिना एक महिला को हर मिनट दुर्व्यवहार का सामना करना पडता है. तो मैंने अपने हिस्से की जिम्मेदारी निभाने और इस  मुद्दे पर जागरूकता फैलाने का निर्णय लिया. 

 ये भी पढ़े -अजय देवगन और रणबीर कपूर अगली फिल्म में करेंगे स्क्रीन शेयर

आपको बता दें कि अभिनेत्री 'स्कूल फॉर जस्टिस' की भी ब्रांड एंबेसडर है और महिलाओं के अधिकारों पर वो एक मजबूत दृष्टिकोण साझा करती है. मल्लिका संयुक्त राष्ट्र और एनजीओ 'उर्जा' से भी जुडी हुई है. इसी के तहत, मल्लिका ने भारत में महिलाओं द्वारा सामना की जाने वाली समस्याओं को ले कर 2014 में 65वें यूनाइटेड नेशंस डीपीआई/एनजीओ कांफ्रेंस को संबोधित किया था.

 

 

 

वेब डेस्क IBC24


Download IBC24 Mobile Apps

Trending News

IBC24 SwarnaSharda Scholarship 2018

Related News