News

यौन शोषण के आरोपी ने सजा के तीन साल बाद की पीड़िता से शादी

Last Modified - May 15, 2018, 6:25 pm

बिहार। कहते हैं अपराध से घृणा करो अपराधी से नहीं शायद ऐसा ही कुछ सोची होगी वो लड़की जिसने पहले तो उसके साथ यौन शोषण करने वाले व्यक्ति को जेल भेजवाया लेकिन। जब सजा के तीन साल बाद जब अपराधी ने उससे शादी करने का प्रस्ताव रखा तो उसने सहर्ष स्वीकार लिया। उन दोनों के इस निर्णय से पूरा जेल प्रशासन भी खुश है.जिसके चलते  कोर्ट के आदेश पर जेल परिसर के अंदर ही बने मंदिर में आरोपी और पीड़िता की शादी करायी गयी है। 

ये भी पढ़े -कुख्यात अपराधी को भगाने के लिए जेल के कैदी वाहन में बम ब्‍लास्‍ट

बताया जा रहा है कि जेल प्रशासन ने पूरी  शादी की  तैयारियां कर हिन्दू पूरे रीति रिवाज से दोनों की शादी संपन्न करवाई. शादी के बाद जहां आरोपी दूल्हे को फिर से जेल भेज दिया गया, वहीं  लड़की अपने मायके चली गयी है। 

ये था मामला 

जमुई के गिधौर थाना क्षेत्र के  गेनाडीह की रहने वाली लड़की और लक्ष्मीपुर थाना क्षेत्र के गुगुलडीह गांव के रहने वाले व्यास पाण्डेय के बीच प्यार था। इस प्यार के चलते दोनों के बीच कई बारशारीरिक संबंध भी बने।जब ये बात लड़की के परिवार वालों को पता चली तो उन्होंने लड़के पर शादी के लिए दबाव बनाना शुरू किया.लेकिन लड़के ने शादी से ये बोलकर इंकार कर दिया की उसके परिवार वाले शादी के खिलाफ हैं। उसके बाद लड़की ने शादी का झांसा देकर यौन शोषण का केस दर्ज कर दिया जिसके चलते लड़के को जेल हो गयी। 

ये भी पढ़े -चार सब्जेक्ट में फेल फिर भी बंटे लड्डू और निकला जुलूस, पैरेंट्स ने दिया ये बड़ा संदेश

आरोपी व्यास पांडेय पिछले तीन साल से जेल में और उसे उसी दौरान ये अहसास हुआ की उसे पीड़िता से शादी कर लेनी चाहिए। जिसके चलते उसने कोर्ट में अर्जी दी कि वह लड़की से शादी करने को तैयार है.लड़के की अर्जी पर न्यायालय ने लड़की से उसकी मर्जी पूछी तो लड़की ने शादी के लिए न्यायालय में अपनी सहमति प्रदान कर दी. लड़का और लड़की दोनों की सहमति जानने के बाद कोर्ट ने जेल प्रशासन को आदेश दिया कि जेल में ही उनकी शादी करवाई जाए.

 

वेव डेस्क IBC24


Download IBC24 Mobile Apps