IBC-24

कर्नाटक में हाईप्रोफाइल सियासी ड्रामे का क्लाइमेक्स,बीजेपी का दावा-येदुरप्पा को सरकार बनाने बुलावा

Reported By: Pushpraj Sisodiya, Edited By: Pushpraj Sisodiya

Published on 16 May 2018 10:14 PM, Updated On 16 May 2018 10:14 PM

बेंगलूरु। कर्नाटक में सरकार बनाने का हाईप्रोफाइल ड्रामा क्लाइमेक्स तक पहुंच गया है। बीजेपी ने दावा किया है कि राज्यपाल ने बीजेपी को कर्नाटक में सरकार बनाने का न्यौता दिया है। गुरूवार सुबह 9.30 बजे येदुरप्पा का शपथ ले सकते हैं। हालांकि इस बारे में आधिकारिक रुप से राज्यपाल की तरफ से अभी कोई बयान नहीं आया है।

ये भी पढ़ें- स्वच्छता सर्वेक्षण में इंदौर अव्वल, छत्तीसगढ़ को बेस्ट परफार्मिंग स्टेट में तीसरा स्थान

कर्नाटक विधानसभा चुनाव के नतीजे घोषित होने के बाद  बीजेपी 104 सीटों के साथ सबसे बड़ी पार्टी बनकर उभरी है। कांग्रेस को 78, जेडीएस 38 सीटें मिली है। वहीं अन्य को दो सीटें मिलीं. सरकार बनाने के लिए किसी को भी पूर्ण बहुमत नहीं मिला। सरकार बनाने के लिए 112 सीटें होनी चाहिए। ऐसे में अगर कांग्रेस की 78 और जेडीएस की 38 सीटों को मिला दिया जाए तो कुल आंकड़ा 116 हो जाएगा जो बहुमत के आंकड़े से चार सीटें ज्यादा है। नतीजे आने के बाद मामला उस समय दिलचस्प हो गया जब कांग्रेस ने कहा कि वो जेडीएस के साथ मिलकर सरकार बनाने का दावा पेश करेगी।

ये भी पढ़ें-फ्लाईओवर हादसे पर बोले राज बब्बर- मंदिर गिराने के कारण हुई घटना

 

कांग्रेस ने कहा कि अगर जेडीएस के साथ गठबंधन में उनकी सरकार बनती है तो जेडीएस के अध्यक्ष कुमारस्वामी कर्नाटक के सीएम बनेंगे। दिनभर सरकार बनाने को लेकर कर्नाटक में खूब ड्रामा हुआ। बीजेपी के बीएस येदियुरप्पा ने कहा कि हम सबसे बड़ी पार्टी हैं और ऐसे में सरकार बनाने का मौका मिलना चाहिए। बीजेपी 100 प्रतिशत सरकार बनाएगी और विधानसभा में बहुमत भी साबित करेगी। जेडीएस के कुमारस्वामी ने दावा किया है कि बीजेपी ने उनके विधायकों को खरीदने की कोशिश कर रही है और 100 करोड़ का ऑफर भी दिया है।

ये भी पढ़ें- पत्नी पर शक करना पड़ा महंगा, पुलिस पड़ गई पीछे

जेडीएस और कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने बीजेपी के खिलाफ राजभवन के बाहर हंगामा भी किया। कांग्रेस-जेडीएस कार्यकर्ताओं ने प्रधानमंत्री मोदी और बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह के खिलाफ नारेबाजी की।बीजेपी को मिले सराकर बनाने के न्योते के बाद कांग्रस ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर इस फैसले का विरोध किया। कांग्रेस नेता पी चिदंबरम ने कहा, ''जेडीएस और कांग्रेस ने राज्यपाल से मुलाकात कर पूर्ण बहुमत का दावा किया है। हमने सदस्यों के नाम की लिस्ट भी सौंपी है। हमने उन्हें सुप्रीम कोर्ट के फैसले की कॉपी भी सौंपी है। वो संविधान और सुप्रीम कोर्ट के फैसले से बंधे हुए हैं।

 

वेब डेस्क IBC 24

Web Title : Karnatak Politics :

ibc-24