News

चर्रे-मर्रे का जलप्रपात

Last Modified - May 23, 2018, 7:23 pm

छत्तीसगढ़ के प्रसिद्ध जलप्रपातों में एक है  चर्रे मर्रे जलप्रपात। जो  नारायणपुर के अंतागढ़-आमाबेड़ा वनमार्ग पर पिंजारिन घाटी में स्थित है ।इस जलप्रपात की खासियत ये है कि यहां का कलकल करता झरना पर्यटकों को साल भर आकर्षित करता है।  उत्तर पश्चिम दिशा में जलप्रपात का गिरता हुआ पानी अलग-अलग कुंडों के रूप में एकत्रित होकर दक्षिण दिशा में लंबा फासला तय कर कोटरी नदी में मिलता है.

चर्रे मर्रे  का सुन्दर झरना कांकेर में अन्तागढ़ से 17 किमी की दूरी पर स्थित है। आमाबेड़ा के रास्ते पर एक चर्रे मर्रे नाम का स्थान पड़ता है। यह झरना जोगीधारा नदी से बनता है। इस झरने की ऊँचाई 16 मीटर है। यह आड़ा-तिरछा झरना प्रमुख पर्यटक आकर्षण होने के साथ-साथ प्रमुख पिकनिक स्पॉट भी है।नारायणपुर के अंतागढ़-आमाबेड़ा वनमार्ग पर पिंजारिन घाटी में यह जलप्रपात स्थित है । उत्तर पश्चिम दिशा में जलप्रपात का गिरता हुआ पानी अलग-अलग कुंडों के रूप में एकत्रित होकर दक्षिण दिशा में लंबा फासला तय कर कोटरी नदी में मिलता है । 

वेब डेस्क IBC24

 


Download IBC24 Mobile Apps

Trending News

IBC24 SwarnaSharda Scholarship 2018

Related News