News

हिंदुओं को भी मिल सकता है अल्पसंख्यक का दर्जा, 14 जून को होगा फैसला

Created at - May 25, 2018, 7:44 pm
Modified at - May 25, 2018, 7:44 pm

नई दिल्ली। देश के 8 राज्यों में हिंदुओं को अल्पसंख्यक का दर्जा देने पर राष्ट्रीय अल्पसंख्यक आयोग 14 जून की बैठक में फैसला कर सकता है। पिछले वर्ष भाजपा नेता और अधिवक्ता अश्विनी उपाध्यान ने इस बारे में सुप्रीम कोर्ट में याचिका दाखिल की थी, जिस पर सुनवाई से इंकार करते हुए अदालत ने उन्हें अल्पसंख्यक आयोग के पास जाने कहा था। जिन राज्यों में हिंदुओं को अल्पसंख्यक का दर्जा देने की मांग की गई है, उनमें लक्षद्वीप, जम्मू-कश्मीर, मिजोरम, नागालैंड, मेघालय, अरुणाचल प्रदेश, मणिपुर और पंजाब शामिल हैं।

याचिकाकर्ता ने कहा था कि चूंकि इन 8 राज्यों में हिंदू अल्पसंख्यक हैं इसलिए इन राज्यों में उन्हें अल्पसंख्यकों को मिलने वाले अधिकार मिलने चाहिए। वर्ष 2011 की जनगणना के अनुसार लक्षद्वीप में 2.5, मिजोरम में 2.75, नागालैंड में 8.75, मेघालय में 11.53, जम्मू-कश्मीर में 28.44, अरुणाचल प्रदेश में29, मणिपुर में 31.39 और पंजाब में 38.40 फीसदी हिंदू हैं।

यह भी पढ़ें : बॉम्बे भेल रेस्टोरेंट में धमाका, 18 लोग घायल

 

अल्पसंख्यक आयोग ने 14 जून को आयोजित बैठक में शामिल होने के लिए याचिकाकर्ता अश्विनी कुमार को पत्र लिखकर बताया है कि इस बैठक में 8 राज्यों में हिंदुओं को अल्पसंख्यक का दर्जा दिए जाने पर चर्चा होगी।

बता दें कि सुप्रीम कोर्ट में दायर याचिका में अधिवक्ता कुमार ने कहा था कि अक्टूबर 1993 में जारी नोटिफिकेशन में मुस्लिम और अन्य समुदायों को अल्पसंख्यक का दर्जा दिया गया था।

वेब डेस्क, IBC24


Download IBC24 Mobile Apps

Trending News

Related News