इंदौर News

राहुल की सभा से पहले कांग्रेस ने भाजपा पर लगाया ये आरोप, अनशन पर बैठने की दी चेतावनी

Created at - May 27, 2018, 6:42 pm
Modified at - May 27, 2018, 6:42 pm

इंदौर। मंदसौर गोलीकांड की पहली बरसी पर राहुल गांधी की पिपल्यामंडी में बड़ी सभा होनी है। सभा में 2 लाख लोगों की भीड़ जुटाने की तैयारी में कांग्रेस नेता लग गए है। लेकिन इस सभा के पहले ही मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने भी मंदसौर में जाकर सभा कर सकते हैं और इसी रस्साकशी के बीच कांग्रेस का आरोप है कि किसान आंदोलन को खत्म करने और राहुल गांधी की सभा को असफल बनाने के लिए भाजपा प्रशासन और पुलिस अधिकारियों के साथ मिलकर षड़यंत्र रच रही है। कांग्रेस नेताओं को डर है कि उन्हें किसान आंदोलन के दौरान गिरफ्तार कर लिया जाएगा, जिसका जवाब वो आमरण अनशन के जरिए देंगे।

मंदसौर गोली कांड में मारे किसानों की पहली बरसी पर कांग्रेस पिपल्यामंडी में राहुल गांधी की अगुवाई में बड़ा विरोध प्रदर्शन करने जा रही है। 6 जून को होने वाली इस सभा के लिए कांग्रेस ने 2 लाख किसान और कांग्रेस कार्यकर्ताओं की भीड़ को जुटाने के लिए तैयारियां शुरू कर दी है। इसकी कमान प्रदेश कांग्रेस के कार्यकारी अध्यक्ष जीतू पटवारी के साथ में है, क्योंकि पिछले साल भी किसान आंदोलन के दौरान पटवारी ने अहम भूमिका निभाई थी, लिहाजा इंदौर से मंदसौर तक के कांग्रेस कार्यकर्ताओं के बीच जाकर राहुल गांधी की सभा के लिए लोगों को जोड़ा जा रहा है।

यह भी पढ़ें : दिग्विजय ने मोदी सहित भाजपा नेताओं को दिया यह फिटनेस चैलेंज

 

इन सब तैयारियां के बीच कांग्रेस का आरोप है कि भाजपा सरकार किसान आंदोलन और राहुल गांधी की सभा को असफल बनाने के लिए पूरी षड़यंत्र कर रही है। किसानों को नोटिस थमाई जा रही है। वहीं, कांग्रेस नेताओं पर नजर रखी जा रही है ताकि किसान आंदोलन को खत्म कर दिया जाए और इस काम में पुलिस और जिला प्रशासन के तमाम अधिकारी लग गए है। वे किसानों को धमका रहे हैं।

पटवारी ने चेतावनी दी है कि किसी भी कांग्रेस कार्यकर्ता की गिरफ्तारी होती है तो कि कांग्रेस नेता आमरण अंशन पर बैठ जाएंगे। हालांकि भाजपा ने सभी आरोपों को निराधार बताया है लेकिन पुलिस ने भी स्पष्ट कर दिया है कि संदिग्धों के खिलाफ कार्रवाई की जा रही है। किसानों के साथ बैठक हो रही है और जो भी उचित कार्रवाई है वो की जाएगी।

यह भी पढ़ें : जम्मू-कश्मीर में पत्थरबाजी के कारण सीआरपीएफ का वाहन पलटा, 15 जवान घायल

 

फिलहाल, किसान आंदोलन लेकर राजनीति गर्माई हुई है और कांग्रेस भी इस मुद्दे को छोड़ना नहीं चाहती है। वहीं, भाजपा भी पूरी ताकत से किसानों के गुस्से को खत्म करने में लगी हुई है।

वेब डेस्क, IBC24


Download IBC24 Mobile Apps

Trending News

IBC24 SwarnaSharda Scholarship 2018

Related News