रायपुर News

हड़ताली नर्सेस को सरकार का अल्टीमेटम, 4 जून तक काम पर नहीं लौटे तो होंगे बर्खास्त

Last Modified - June 2, 2018, 7:06 pm

रायपुर। मुख्यमंत्री रमन सिंह ने चार जून तक नर्सों को काम पर लौटने का अल्टीमेटम दिया है। चार जून तक नर्सें काम पर नहीं लौटीं तो उनकी सेवाएं समाप्त  कर दी जाएंगीं। आपको बतादें नर्सों की जमानत को लेकर होने आज शाम होने वाली मीटिंग भी टल गई है। प्रशासन अब नर्सों को अलग-अलग जगह शिफ्ट करने की तैयारी कर रही है। वहीं पांच नर्सों को महिला सेल से बाहर निकाला गया है। तबीयत खराब होने के कारण दो नर्सों को जमानत दी गई है। तीन नर्सों की छोटे-छोटे बच्चे होने के कारण उन्हें सेल से बाहर निकालकर परिसर में रखा गया है। 

ये भी पढ़ें- डोंगरगढ़ में नक्सल एनकाउंटर का विरोध, ग्रामीणों ने कहा-पुलिस ने दो निर्दोषों को मारा

गौरतलब है सैलरी बढ़ाने की मांग को लेकर हड़ताल कर रही नर्सों की आज अधिकारियों से हुई बातचीत बेनतीजा रही। नर्सों का कहना है, कि शासन की तरफ से मीटिंग में लगातार कमेटी बनाकर 2 महीने बाद रिपोर्ट सौंपने की बात कही जा रही है, जो उन्हें नामंजूर है। इधर रायपुर में आज भी नर्सों के आंदोलन का असर दिनभर रहा। शुक्रवार को 8 सौ 83 नर्सों की गिरफ्तारी के बाद रात को करीब पांच सौ नर्सों को रिहा किया गया, लेकिन नर्सें सेंट्रल जेल परिसर में ही जमी रहीं।

अधिकारियों के मान-मनौव्वल के बीच कांग्रेस नेता भी जेल पहुंचते रहे। अधिकारियों से चर्चा में राय नहीं बनीं तो दोपहर को रायपुर कलेक्टर, सिटी SP, जेल DIG सहित दूसरे अधिकारी नर्सों से बात करने पहुंचे। महिला बैरक में 5 नर्सों के साथ करीब आधे घंटे चर्चा हुई, लेकिन हड़ताली कर्मचारियों और शासन के बीच एक राय नहीं बन पाई।

 

 

वेब डेस्क, IBC24


Download IBC24 Mobile Apps

Trending News

IBC24 SwarnaSharda Scholarship 2018

Related News