रायपुर News

शिक्षाकर्मियों के लिए मंगलवार का दिन अहम, मोबाइल में गूंज रहे संविलियन के नारे

Last Modified - June 4, 2018, 12:37 pm

रायपुर। छत्तीसगढ़ के शिक्षाकर्मियों के संविलियन पर मंगलवार को कोई फैसला आ सकता है। बताया जा रहा है कि हाईपावर कमेटी की रिपोर्ट तैयार हो गई है। मुख्यमंत्री डॉ रमन सिंह भी कई बार संकेत दे चुके हैं कि 5 जून को कोई फार्मूला सामने आएगा। ऐसे में शिक्षाकर्मियों को भी इसका इंतजार है। इस बीच शिक्षाकर्मियों ने संविलियन के लिए सोशल मीडिया और मोबाइल के जरिए दबाव बनाना शुरू कर दिया है। उनके मोबाइल में संविलियन के नारे गूंज रहे हैं। 

यह भी पड़ें - फिल्म काला पर लगा बैन, प्रकाश राज ने तोड़ी चुप्पी

संविलियन समेत अपनी 9 सूत्रीय मांग को लेकर प्रदेश के शिक्षाकर्मी नये-नये तरीकों से दबाव बनाए हुए हैं। इसी कड़ी में शिक्षक पंचायत नगरीय निकाय मोर्चा ने 2 रिंगटोन्स रिलीज किए हैं। कहा जा रहा है कि यह रिंगटोन्स तेजी से प्रसारित हुआ है और तमाम शिक्षार्मियों के मोबाइल पर रिंगटोन की जगह नारों की गूंज है। 

मोर्चा के प्रदेश संचालक विरेन्द्र दुबे ने कहा कि ये संविलियन रिंगटोन्स प्रदेश के समस्त शिक्षाकर्मियों के दिल की आवाज है। शिक्षक नवाचारी होता है। हम वेतन विसंगति रहित क्रमोन्नत सह संविलियन सहित अपनी अन्य 9 सूत्रीय माँग   के लिए हरसंभव प्रयास करेंगे। मुख्यमंत्री से अनुरोध है कि प्रदेश के समस्त शिक्षाकर्मियों के मंशानुरूप बिना विलम्ब के संविलियन की घोषणा करें। 

यह भी पड़ें - किसान आंदोलन का चौथा दिन, मुफ्त सब्जियां बांट कर विरोध प्रदर्शन

मोर्चा के प्रदेश मिडिया प्रभारी जितेन्द्र शर्मा और विवेक दुबे ने बताया कि यह संविलियन रिंगटोन्स प्रतिपल संविलियन के प्रति हमारे जज्बे को मजबूत करेगा तथा जनमानस में भी संविलियन की गूंज सुनाई देगी। प्रदेश के 1 लाख 80 हजार शिक्षाकर्मी और उनके परिवार को मिला दिया जाए, तो संख्या 9 लाख हो जाती है। सभी संविलियन तिहार मनाने के लिए आतुर हैं।

वेब डेस्क IBC24


Download IBC24 Mobile Apps

Trending News

IBC24 SwarnaSharda Scholarship 2018

Related News