नीति आयोग ने 228 गांवों को चुना, सरकारी योजनाओं का होगा बेहतर क्रियान्वयन

Reported By: Abhishek Mishra, Edited By: Abhishek Mishra

Published on 14 Jun 2018 04:32 PM, Updated On 14 Jun 2018 04:32 PM

कोरबा। केंद्रीय नीति आयोग ने कोरबा जिले के पिछड़े इलाकों को योजनाओं का पूरा लाभ दिलाने की कवायद शुरू कर दी है। इसके लिए जिले के 3 गांव को चयनित किया गया था। मगर अब इसकी संख्या बढ़ाकर 228 कर दिया गया है।

ये भी पढ़ें- भीषण गर्मी में इस शख्स को लगती है हाड़ कंपाने वाली ठंड, कंबल और अलाव के सहारे होता है गुजारा

दरअसल केंद्रीय नीति आयोग ने कोरबा जिले को उन पिछड़े जिलों में शामिल किया है जहां पर योजनाओं का क्रियान्वयन बेहतर तरीके से नहीं हो पा रहा है।

ये भी पढ़ें- दाती महाराज की शिष्या का आरोप- दुष्कर्म के बाद दाती महाराज उसे करीबी लोगों के पास भेजता था

कोरबा जिले के 5 ब्लॉकों के 288 गांवों को इसमें शामिल किया गया है जहां विद्युत विभाग, बैंक, खाद्य विभाग, स्वास्थ्य विभाग समेत करीब दर्जनभर से ज्यादा योजनाओं का बेहतर क्रियान्वयन किया जाना है। 

ये भी पढ़ें-जानिए कौन है विनायक जो संभालेंगे भय्यूजी की संपत्ति

इसके लिए नोडल अफसरों की तैनाती कर गांव के सभी पात्र लोगों को विभिन्न योजनाओं का लाभ दिलाने के लिए काम शुरू कर दिया गया है और इसकी ऑनलाइन मॉनिटरिंग भी की जा रही है।

 

 

वेब डेस्क, IBC24

 

Web Title : CG News:

ibc-24