रायपुर News

मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी का दावा- छत्तीसगढ़ में नहीं हो सकेगी EVM की हैकिंग, जानिए और क्या कहा

Created at - June 27, 2018, 1:35 pm
Modified at - June 27, 2018, 1:35 pm

रायपुर। छत्तीसगढ़ के मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी सुब्रत साहू ने दावा किया है कि राज्य में EVM की हैकिंग नहीं हो सकेगी। उन्होंने कहा कि छत्तीसगढ़ में हर हाल में EVM सुरक्षित हैनए EVM में डाटा ट्रांसफर का कोई गुंजाइश नहीं है। साहू ने बताया कि छत्तीसगढ़ में M-3 लेबल की EVM मंगाई जा रही है। जिस मशीन में डाटा ट्रांसफर नहीं होता है, उसकी हैकिंग नहीं हो सकती हैसभी EVM की तीन स्तर पर चैकिंग हो चुकी है। उन्होंने यह भी कहा कि नक्सल इलाकों में इलेक्शन में कोई दिक्कत नहीं है

एक प्रेसवार्ता में मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी सुब्रत साहू ने कहा कि विधानसभा चुनाव के लिए मतदाता सूची का कार्यक्रम तय हो गया है। मतदाता सूची का प्रारंभिक प्रकाशन 31 जुलाई को होगा। इसके लिए 21 अगस्त तक दावा-आपत्ति आमंत्रित होंगे। आपत्तियों का निराकरण 26 सितंबर तक होगा। इसके बाद 27 सितम्बर को मतदाता सूची का अंतिम प्रकाशन होगा।

यह भी पढ़ें : पत्थलगड़ी समर्थकों के सांसद आवास पर हमले के बाद से अगवा जवानों का कोई सुराग नहीं

उन्होंने कहा कि अंतिम प्रकाशन के आधार पर ही विधानसभा चुनाव होंगे। प्रदेश में वर्तमान में 1 करोड़ 81 लाख 52 हजार 143 मतदाता है। जिसमें सबसे अधिक मतदाता कसडोल में 3 लाख 25 हजार 958 और सबसे कम मनेन्द्रगढ़ में 1 लाख 29 हजार 871 हैं। राज्य में 90 विधानसभा है, इसमें से 51 सामान्य,10 एससी, 29 एसटी, 23 हजार 411 मतदान केंद्र है। साहू ने बताया कि राज्य में 100 वर्ष से अधिक आयु के वर्तमान में 3630 मतदाता हैं।

वेब डेस्क, IBC24


Download IBC24 Mobile Apps

Trending News

Related News