मंदसौर News

मंदसौर में मासूम से दरिंदगी के आरोपी को फांसी देने की मांग, विरोध में आज बंद है स्कूल और कारोबार

Created at - June 29, 2018, 1:19 pm
Modified at - June 29, 2018, 1:19 pm

मंदसौर। मंदसौर में मासूम को अगवा कर रेप और फिर हत्या की कोशिश की घटना को लेकर लोगों में काफी आक्रोश है। लोग एक सुर में आरोपी को फांसी की सजा दिए जाने की मांग कर रहे है। रेप की इस घटना के विरोध में आज मंदसौर जिले के गरोठ, भानपुरा, शामगढ़, सीतामऊ, सुवासरा और संजीत कस्बे बंद है। वहीं नीमच और जिले के कई कस्बे भी रेप की इस घटना के विरोध में बंद है।

ये भी पढ़ें- ASI भिलाला को शहीद का दर्जा, 1 करोड़ की सहायता और बच्चे को मिलेगी सरकारी नौकरी

लोगों ने अपना कारोबार बंद रखा है। साथ ही स्कूलों में भी छुट्टी है इधर पीड़ित बच्ची का इंदौर के एमवाय अस्पताल में इलाज जारी है। फिलहाल बच्ची की हालत खतरे से बाहर है और उसकी हालत में सुधार हो रहा है। मंदसौर सांसद सुधीर गुप्ता और इंदौर से विधायक उषा ठाकुर और कांग्रेस नेता अर्चना जायसवाल ने भी पीड़ित बच्ची से मुलाकात की। सभी नेता पीड़ित के माता-पिता से भी मिले। पीड़ित की मां ने आरोपी को फांसी की सजा देने की मांग की है।

ये भी पढ़ें-राजधानी के इन इलाकों में नहीं खुलेंगे नल, 30 जून सुबह 10 बजे तक बाधित रहेगी पानी सप्लाई

कांग्रेस नेताओं ने आरोप लगाया कि अस्पताल प्रबंधन उन्हें पीड़ित की हालत के बारे में पूरी जानकारी नहीं दे रहा है। कांग्रेस ने उनके साथ भेदभाव का आरोप लगाया है। अर्चना जायसवाल ने ये आरोप भी लगाया। कि भाजपा नेता जूते पहनकर आईसीयू तक पहुंच गए।

ये भी पढ़ें- ऋचा जोगी ने की NSUI के राष्ट्रीय अध्यक्ष पर कार्रवाई की मांग, यौन शोषण का मामला

वहीं सांसद सुधीर गुप्ता ने भी आरोपी को फांसी दिए जाने की पैरवी की है। तो वहीं विधायक उषा ठाकुर ने भी कहा है। कि ऐसे नर पिशाच को चौराहे पर फांसी दी जाना चाहिए और उसका अंतिम संस्कार भी नहीं किया जाना चाहिए। इधर खुद सीएम शिवराज सिंह ने रेप की इस घटना को दरिंदगी की इंतेहां बताया। सीएम शिवराज सिंह ने कहा कि मासूम से रेप करने वाले राक्षक को समाज में रहने का अधिकार नहीं है। इस मामले की फास्ट ट्रैक कोर्ट में सुनवाई की जाएगी और ऐसी कोशिश की जाएगी कि आरोपी को फांसी की सजा हो।

 

 

 

वेब डेस्क, IBC24

 


Download IBC24 Mobile Apps

Trending News

Related News