IBC-24

मानसरोवर यात्रा:नेपाल-तिब्बत के बीच हिल्सा में फंसे छत्तीसगढ़ के 13 दर्शनार्थी,मदद की गुहार

Reported By: Madhvi Sahu, Edited By: Madhvi Sahu

Published on 04 Jul 2018 03:27 PM, Updated On 04 Jul 2018 03:27 PM

रायपुर। कैलाश मानसरोवर यात्रा पर गये छत्तीसगढ़ के 13 दर्शनार्थी खराब मौसम के चलते नेपाल तिब्बत के बीच हिल्सा में फंसे हुए हैं। 11 श्रद्धालु तिल्दा के रहने वाले हैं।  जिनमें दो यात्री की हालत ज्यादा खराब हो गई है। यात्रियों ने सरकार पर मदद नहीं करने का आरोप लगाया है। साथ ही ट्रैव्हल कंपनियों पर मनमानी करने का भी आरोप लगाया है। यात्रियों के मुताबिक ट्रैव्हल कंपनी ने पंजाब पहुंचाने के लिए चार लाख रुपए ले लिए। लेकिन उसके बाद भी उनको मदद नहीं मिल पा रही है।

ये भी पढ़ें- सेक्स के दौरान इस कारण हुई युवती की मौत, बॉयफ्रेंड पर केस दर्ज

लेकिन 12 सीटर विमान खराब मौसम के कारण उड़ान नहीं भर पा रहा है। जिससे यात्री परेशान हो रहे है। यात्रियों ने आईबीसी-24 न्यूज चैनल से मदद की गुहार लगाई है।

ये भी पढ़ें- सपना चौधरी 7 जुलाई को रायपुर में देंगी परफॉर्मेंस,‘हंसा-एक संयोग’ का पहला पोस्टर रिलीज करेंगी

कैलाश मानसरोवर यात्रा पर गए तकरीबन डेढ़ हजार तीर्थयात्री अलग अलग इलाकों में फंसे हुए हैं। उनको बचाने के लिए भारत सरकार द्वारा लगातार रेस्क्यू ऑपरेशन चलाया जा रहा है।

ये भी पढ़ें- मोबाइल छीनकर भाग रहे मजनू की जमकर धुनाई ..वीडियो वायरल

यात्री तिब्बत के पास नेपाल के पहाड़ी इलाके में फंसे हुए हैं। भारत ने इन तीर्थयात्रियों को निकालने के लिये नेपाल से मदद भी मांगी है। विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने आज ट्विटर पर अपने ट्वीट में कहा कि करीब 525 तीर्थयात्री सिमिकोट में, 550 तीर्थयात्री हिल्सा में और करीब 500 तीर्थयात्री तिब्बत के पास फंसे हुए हैं। 

 

वेब डेस्क, IBC214

 

Web Title : Mansarovar Yatra:

ibc-24