IBC-24

विधानसभा में सीएम रमन के बोल- अगले साल 1 लाख करोड़ बजट वाले राज्यों में शामिल होगा छत्तीसगढ़

Reported By: Abhishek Mishra, Edited By: Abhishek Mishra

Published on 05 Jul 2018 10:14 AM, Updated On 05 Jul 2018 10:14 AM

रायपुर। छत्तीसगढ़ विधानसभा के मानसून सत्र के तीसने दिन साल 2017-18 के लिए 4 हजार 8 सौ 78 करोड़ का पहला अनुपूरक बजट पास हो गया। साल 2017-18 के मुख्य बजट 87 हजार 4 सौ 63 करोड़ में अनुपूरक बजट जोड़कर इस साल का कुल बजट 92 हज़ार 3 सौ 41 करोड़ का हो गया है। 

पढ़ें- विधानसभा सत्र का चौथा दिन, दैवेभो कर्मचारी आज घेरेंगे विधानसभा

सीएम के मुताबिक अगले साल छत्तीसगढ़ 1 लाख करोड़ के बजट वाले राज्यों के क्लब में शामिल हो जाएगा। अनुपूरक बजट पर चर्चा के दौरान सीएम ने ये भी कहा, कि वित्तीय  प्रबंधन के मामले में छत्तीसगढ़ देश के कई राज्यों से आगे है। इस बजट में पीएम आवास योजना के लिए 1 हजार 2 सौ 69 करोड़, शिक्षाकर्मियों के लिए एक हज़ार 25 करोड़, संचार क्रांति योजना के लिए क़रीब 5 सौ 66 करोड़, आयुष्मान योजना के लिये तीन सौ 5  करोड़ का प्रावधान रखा गया है। सुपेबेड़ा में सभी नियम शिथिल कर 32 लाख की लागत से उपस्वास्थ्य केंद्र खोला जाएगा।

पढ़ें-एक प्रेम कहानी का दर्दनाक अंत,16 घंटों तक मौत से जंग लड़कर हारा अतुल

वहीं रायपुर के गुढ़ियारी में 30 बिस्तर का सामुदायिक अस्पताल खोला जाएगा। प्रदेश में 6 नए तहसील के लिए भी राशि का प्रावधान किया गया है। सीएम ने ये भी कहा, कि संविलियन नीतिगत निर्णय है और समय के साथ-साथ शिक्षा​कर्मियों का स्वत: संविलियन जारी रहेगा। सीएम ये कहने से भी नहीं चूके, कि पहले के मुख्यमंत्री ने शिक्षकों को कर्मी बनाकर रखा था। और उनकी गलती का पश्चाताप ये सरकार कर रही है। अनुपूरक बजट पर चर्चा के दौरान नेता प्रतिपक्ष TS सिंहदेव ने भी खाद-बीज की कमी, कर्मचारियों की हड़ताल, मोबाइल बांटने की योजना और बेरोज़गारी समेत तमाम मुद्दों पर सरकार को घेरा। सिंहदेव ने ये तक कहा, प्रदेश में पहली बार नर्सों को जेल में डाला गया। 

 

वेब डेस्क, IBC24

 

Web Title : CG Monsoon Session:

ibc-24