News

क्वार्टर फाइनल की भिड़ंत, इन टीमों में होगी कांटे की टक्कर

Created at - July 5, 2018, 10:00 am
Modified at - July 5, 2018, 10:00 am

मॉस्को। फुटबॉल के महाकुंभ फीफा वर्ल्ड कप के क्वार्टर फाइनल मुकाबले में कांटे की टक्कर होने वाली है। ग्रुप स्टेड के मुकाबले में दुनिया की नंबर वन टीम जर्मनी उलटफेर का शिकार हुई। फिर प्री-क्वार्टर फाइनल में सुपरस्टार स्ट्राइकर लियोन मेसी की अर्जेटीना, क्रिस्टियानो रोनाल्डो की पुर्तगाल और सितारों से सजी स्पेनिश टीम बाहर हो गई। शुक्रवार से शुरू हो रहे अंतिम-आठ के मुकाबलों में ब्राजील, इंग्लैंड, बेल्जियम, क्रोएशिया, उरुग्वे, स्वीडन, फ्रांस और मेजाबन रूस आगे का रास्ता तय करने के लिए मैदान पर उतरेंगी लेकिन अब यहां इन टीमों के बीच कांटे की टक्कर होगी और ये सभी टीम खुद को साबित करते हुए यहां तक पहुंचीं हैं।

पढ़ें- रोजर फेडरर ने पूरी की इस भारतीय फैन की मांग, जानिए क्या मांगा था मिहिका ने

फ्रांसीसी टीम को क्वार्टर फाइनल तक ले जाने में सबसे बड़ा योगदान कलाइन एमबापे और एंटोनी ग्रीजमैन का रहा है। अर्जेटीना के खिलाफ प्री-क्वार्टर फाइनल में एमबापे के दो गोलों ने मैच का नतीजा बदला तो ग्रीजमैन का पेनाल्टी पर गोल भी यादगार है। फ्रांसीसी टीम का टूर्नामेंट में सफर अच्छा रहा और उसने ऑस्ट्रेलिया को 2-1 हराया, जबकि पेरू को 1-0 से मात दी। इसके अलावा डेनमार्क से मैच 1-1 से ड्रॉ खेला। उसके सामने उरुग्वे की चुनौती होगी लेकिन यह मैच रोमांचक होने की उम्मीद है। वहीं उरुग्वे ने टूर्नामेंट की शुरुआत धमाकेदार की और ग्रुप स्टेज में लगातार तीनों मैच अपने नाम किए। उसने जीत का सिलसिला पहले मिस्र और सऊदी अरब को 1-0 से हराकर किया और फिर रूस को 3-0 से शिकस्त दी। इसके बाद क्रिस्टियानो रोनाल्डो की पुर्तगाली टीम को 2-1 से मात देकर क्वार्टर फाइनल का टिकट कटाया।

पढ़ें- टीम इंडिया ने इंग्लैंड को 8 विकेट से हराया, सीरीज में 1-0 की बढ़त

दूसरे क्वार्टर फाइनल में ब्राजील और बेल्जियम की टीमें आमने-सामने होंगी लेकिन ब्राजीली टीम का प्री-क्वार्टर तक सफर उम्मीदोंभरा नहीं रहा। पांच बार की चैंपियन और नेमार, कॉटिन्हो, जीसस, पॉलिन्हो जैसे स्टार खिलाडि़यों के रहते टीम को ग्रुप स्टेज के शुरुआती मुकाबले में स्विट्जरलैंड से 1-1 से ड्रॉ खेलना पड़ा जबकि उससे ज्यादा गोल करने की उम्मीद थी। फिर ब्राजीली टीम कोस्टा रिका पर 2-0 से जीत दर्ज करने में सफल रही तो सर्बिया को भी इतने अंतर से हरा दिया। अंतिम-16 में नेमार की मदद से ब्राजील ने मेक्सिको को 2-0 से हराकर आगे का रास्ता साफ किया लेकिन अपने छठे खिताब पर निगाह लगाए बैठी ब्राजील को इस अहम मैच में नेमार से फिर से अच्छे प्रदर्शन की आस रहेगी। वहीं बेल्जियम ने पनामा (3-0), ट्यूनीशिया (5-2) को बड़े अंतर से हराया तो खिताब की दावेदारों में शामिल इंग्लिश टीम को 1-0 से मात दी। इसके बाद अंतिम-16 में एशियाई टीम जापान को अंतिम समय में 3-2 से हराकर अपनी खिताब जीतने के सपने को जिंदा रखा। बेल्जियम को ब्राजील को हराना है तो उसके अहम स्ट्राइकर रोमेलू लुकाकू को चलना होगा जो प्री-क्वार्टर फाइनल में फ्लॉप रहे।

ये भी पढ़ें- सूरमा देख हॉकी की बारीकियों से रूबरू होंगे दर्शक

तीसरे क्वार्टर में स्वीडन और इंग्लैंड आमने-सामने होंगी लेकिन इंग्लैंड के युवा कंधों ने अभी तक टीम की उम्मीदों का भार अच्छे से संभाला हुआ है। इंग्लैंड की टीम पेनाल्टी शूटआउट में कोलंबिया को हराकर विश्व कप क्वार्टर फाइनल के लिए क्वालीफाई करने वाली अंतिम टीम बनी। इंग्लैंड की टीम क्वार्टर फाइनल में स्वीडन के खिलाफ जीत की प्रबल दावेदार होगी। टीम सिर्फ एक बार ही अभी तक हारी है लेकिन उसमें भी उसके अहम खिलाड़ी बेंच पर बैठे थे। इंग्लिश टीम ने पहले ट्यूनीशिया को 2-1 से हरा दिया फिर पनामा पर 6-1 से बड़ी जीत दर्ज की लेकिन बेल्जियम ने उसे 1-0 से मात दी। फिर टीम ने वापसी करते हुए प्री-क्वार्टर में कोलंबिया को 4-3 से पेनाल्टी शूटआउट में शिकस्त दी। इंग्लिश टीम को यहां तक लाने में उसके कप्तान हैरी कैन का योगदान अहम रहा है जो तीन मैचों में छह गोल दागकर गोल्डन बूट पाने वालों की दौड़ में सबसे आगे हैं। केन अंतिम-आठ में भी कमाल कर सकते हैं। वहीं, ग्रुप स्टेज से कछुए की चाल चलते हुए धीरे-धीरे स्वीडन अंतिम-आठ तक पहुंच गया। स्वीडन पहले दक्षिण कोरिया को 1-0 से हराने में सफल हुई तो, फिर गत चैंपियन जर्मनी के हाथों 1-2 से हार गई लेकिन मेक्सिको को 3-0 से और स्विट्जरलैंड को 1-0 से मात देकर अब इंग्लैंड की चुनौती का सामना करने का मौका पाया।

ये भी पढ़ें- 12 लापता फुटबॉल प्लेयर और कोच गुफा में मिले, निकालने में लग सकते हैं चार महीने

अंतिम क्वार्टर फाइनल में रूस के सामने क्रोएशियाई टीम होगी और यह मुकाबला भी रोमांचक होने की पूरी उम्मीद है, जिसमें जोश, दीवानगी देखने को मिलेगी। दोनों ही टीम के एकजुट प्रदर्शन से यहां तक पहुंची है। मेजबान रूस ने सभी को आश्चर्यचकित करते हुए दमदार प्रदर्शन किया है तो क्रोएशिया ने भी दिखा दिया कि हम भी कम नहीं। रूस ने टूर्नामेंट की शुरुआत में सऊदी अरब 5-0 को इतने बड़े अंतर से हराकर अपना डंका बजाया था और फिर मिस्र को 3-1 से मात देकर प्री-क्वार्टर में अपने खेलने की उम्मीदों को जिंदा रखा लेकिन ग्रुप स्टेज के आखिरी मैच में टीम उरुग्वे से 0-3 से हार गई लेकिन जब रूसी टीम को प्री-क्वार्टर फाइनल में खेलने का मौका मिला तो उन्होंने सितारों से सजी स्पेनिश टीम को पेनाल्टी शूटआउट में हराकर अपने प्रशंसकों को झूमने का मौका दे दिया। अब क्वार्टर फाइनल में क्रोएशिया के खिलाफ रूसी टीम को मेजबान होने के का फायदा मिलेगा जहां उसके प्रशंसकों उनका हौसला बढ़ाते दिखाई देंगे। हालांकि टीम ने भी अपने प्रदर्शन से दिखा दिया कि वह चौंकाने में भी कम नहीं है। वहीं, क्रोएशियाई टीम ने भी अपने विजयी क्रम को बरकरार रखते हुए नाइजीरिया (2-0), अर्जेटीना (3-0), आइसलैंड (1-2) को हराकर अंतिम-16 में पहुंची। फिर अंतिम-16 में डेनमार्क को मात देकर क्वार्टर फाइनल का टिकट कटाया।

 

 

वेब डेस्क, IBC24


Download IBC24 Mobile Apps

Trending News

IBC24 SwarnaSharda Scholarship 2018

Related News