कवर्धा News

महिला का जलाया घर, गर्भवती होने का दंश

Created at - July 10, 2018, 4:42 pm
Modified at - July 10, 2018, 4:42 pm

कवर्धा। कवर्धा के गांगचुआ गांव में अज्ञात बदमाशों ने एक महिला का घर जला दिया। महिला 8 महीने की गर्भवती है और 5 साल का एक बेटा भी है। संरक्षित बैगा जनजाति की इस महिला को कवर्धा के सखी सेंटर में रखा गया है। कुछ साल पहले ठाकुरटोला में उसकी शादी हुई थी, लेकिन 2 साल से वो पति को छोड़कर गांगचुआ में अपने पिता के मकान के पास ही घर बनाकर रह रही थी।

पढ़ेें- बोहरा समाज में बच्चियों के खतने पर सुप्रीम कोर्ट सख्त

इसी बीच महिला के गर्भवती होने की जानकारी मिली। परिजनों और ग्रामीणों को उस पर शक हुआ, लेकिन पूछताछ के बाद भी जब महिला ने जवाब नहीं दिया तो ग्रामीणों ने उसे गांव में रखने से मना कर दिया। बताया जा रहा है, कि महिला के किसी शख्स से संबंध हैं और वो बाहर रहता है।

पढ़ें- एसपी के दफ्तर केरोसीन लेकर पहुंची रेप पीड़िता और उसकी मां, आत्मदाह की चेतावनी

इसी बीच 6 जुलाई की रात को अज्ञात लोगों ने महिला के मकान में आग लगा दी। आशंका जताई जा रही है, कि परिजन या ग्रामीणों ने ही आग लगाई है। फिलहाल बोड़ला पुलिस जांच में जुटी है। वहीं सखी सेंटर में महिला की काउंसिलिंग की जा रही है। जांच पूरी होने के बाद उसे रायपुर के नारी निकेतन भेजा जायेगा।

 

वेब डेस्क, IBC24


Download IBC24 Mobile Apps

Trending News

Related News