सरगुजा News

बलरामपुर में 11 तो पत्थलगांव में 9 हाथियों का डेरा, दहशत में रतजगा करने को मजबूर ग्रामीण

Created at - July 11, 2018, 10:41 am
Modified at - July 11, 2018, 10:44 am

बलरामपुर। बलरामपुर में 11 हाथियों के आमद से ग्रामीण दहशत में है। 11 हाथियों का दल पिछले 5 दिनों से कुसमी वन परिक्षेत्र के ग्राम हर्री और बकसपुर में डेरा जमाए हुए है। हाथी गांव में घुसकर फसलों को नुकसान पहुंचा रहे हैं। 

पढ़ें- बुजुर्ग पर फूटा खाकी का गुस्सा, बेरहमी से की पिटाई, बीच-बचाव कर रहे परिजनों को भी पीटा

हाथियों से खौफजदा ग्रामीण पूरी रात रतजगा कर रहे हैं। ग्रामीणों की परेशानी को देखते हुए इलाके के विधायक प्रीतम राम ग्रामीणों से मिलने पहुंचे और उनका हालचाल जाना। विधायक प्रीतम राम काफी देर तक ग्रामीणों के साथ रहे। विधायक ने ग्रामीणों से मुलाकात कर उन्हें समझाइस दी की वो हाथियों के करीब न जाएं। ग्रामीणों का आरोप है कि अबतक शासान प्रशासन से कोई भी उनसे मिलने नहीं पहुंचा। रातभर हाथी की हमले के भय के चलते बच्चों को गोद में ही लेकर रतजगा करने को मजबूर हैं। 

पढ़ें- पुल पार करते वक्त नदी में बह गई जीप, एक ही परिवार के पांच लोग थे सवार

ग्रामीणों के मुताबिक वन अमले की तरफ से सिर्फ एक फॉरेस्ट गार्ड ही उनके पास मौजूद है। ग्रामीणों ने बताया की फॉरेस्ट की तरफ से बीच बीच में अधिकारी आते तो जरुर हैं लेकिन वो भी हाथियों को भगाने में नाकाम हैं। हाथियों का दल केला,कटहल और धान का बीड़ों को जमकर नुकसान पहुंचा रहा है। विधायक ने सरकार पर उदासिनता का आरोप लगाते हुए कहा की लगातार विधानसभा में इस बात को उठाया गय है लेकिन इसके बाद भी सरकार इस ओर कोई ध्यान नहीं दे रही है। 

पढ़ें- काले रंग की कार से चल रहा था देह व्यापार, ऐसे हुआ सेक्स रैकेट का पर्दाफाश

वहीं पत्थलगांव में के कापू वन परिक्षेत्र में 9 हाथियों के दल ने इलाके में लगे धान की फसल को तबाह कर दिया है। ग्रामीण दहशत में हैं वहीं वन विभाग फसलों के नुकसान का आंकलन करने में जुटा है।

 

 

वेब डेस्क, IBC24


Download IBC24 Mobile Apps

Trending News

Related News