शाजापुर News

किसानों की बदहाली, बेटा बना बैल, पिता ने जोता खेत

Created at - July 11, 2018, 11:15 am
Modified at - July 11, 2018, 11:15 am

शाजापुर। सरकार भले ही किसानों के हित में काम करने के लाख दावे करे, उनके लिए कई योजनाएं चलाए लेकिन किसान आज भी बदहाली में जीने को मजबूर है। इसकी बानगी अक्सर सामने आती रहती है। ऐसी ही एक तस्वीर शाजापुर में सामने आई है जहां एक गरीब किसान बैल की जगह खुद हल में जुतने को मजबूर है। इतना ही नहीं किसान के बुजुर्ग पिता भी बैल की तरह अपने बेटे की मदद को मजबूर है।

दरअसल ये गरीब किसान पिता-पुत्र करंजवास से शाजापुर मजदूरी के लिए आए इन्होंने ने एक भूमिस्वामी से 4 बीघा खेत लीज पर लिया और उसमें खेती शुरू की लेकिन बैल और दूसरे संसाधन नहीं होने पर ये दोनों खुद ही हल में जुत गए और बुआई की तैयारी की।

पढ़ें- बुजुर्ग पर फूटा खाकी का गुस्सा, बेरहमी से की पिटाई, बीच-बचाव कर रहे परिजनों को भी पीटा

मध्यप्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ भी इस तस्वीर को ट्वीट कर प्रदेश की सरकार पर निशाना साध चुके है। हल में जुत रहे पिता की उम्र करीब 80 बरस है वहीं बेटे की उम्र 45 साल है।

पढ़ें- बलरामपुर में 11 तो पत्थलगांव में 9 हाथियों का डेरा, दहशत में रतजगा करने को मजबूर ग्रामीण

प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ ने अन्नदातों की इस दशा पर प्रदेश सरकार पर निशाना साधा है। कमलनाथ के मुताबिक  ''किसानी को लेकर सरकार चाहे कितने बड़े दावे करे लेकिन वास्तविक तस्वीर कुछ और ही बयां कर रही है। आज किसान सबसे ज़्यादा परेशान है। उनके नाम पर चल रही योजनाओं में जमकर भ्रष्टाचार है, जिसका उसे कोई लाभ नहीं मिल पा रहा है''।

 

 

वेब डेस्क, IBC24

 

 

 

 


Download IBC24 Mobile Apps

Trending News

IBC24 SwarnaSharda Scholarship 2018

Related News