IBC-24

पंचायत का शर्मनाक फैसला, अस्मत की सौदेबाजी फिर जुर्माने के पैसों से छलके जाम

Reported By: Samrendra Sahrma, Edited By: Samrendra Sahrma

Published on 12 Jul 2018 12:28 PM, Updated On 12 Jul 2018 12:28 PM

जशपुर। छत्तीसगढ़ के जशपुर में इंसाफ के नाम पर इंसानियत को शर्मिंदा करने वाली एक घटना हुई है। यहां के मनोरा इलाके के रेमने गांव की ये घटना है, जहां पंचायत ने ऐसा फैसला दिया, जिसके बारे में आपने न पहले कहीं सुना होगा और न ही देखा होगा। दरअसल, इस गांव में रहने वाली तीन नाबालिग लड़कियां गांव के ही तीन लड़कों के साथ टीवी देखने गई थीं। जहां उन्हें परिजनों ने आपत्तिजनक हालत में देख लिया।

पढ़ें- विवाहेतर संबंध में पुरुष के साथ महिला को भी दंडित करने पर विचार

इसके बाद तीनों लड़कियां और लड़के दो दिनों के लिए गांव से भाग गए, मगर जब दो दिन बाद वे वापस आए तो इंसाफ करने के नाम पर पंचायत की बैठक बुलाई गई। मामले की रिपोर्ट थाने में करने से भी पंचायत ने रोक दिया और तीन लड़कियों की हरकत की वजह से समाज का सिर नीचा होने की बात कही गई। साथ ही तीनों लड़कों के परिजनों से दस-दस हजार रुपए जुर्माना वसूल किया गया।

पढ़ें- एसएनसीयू बच्चा वार्ड में शॉर्ट सर्किट से लगी आग, 23 बच्चों को सुरक्षित बचाया

फिर इन 30 हजार रुपयों को गांव के प्रत्येक लोगों में बांट दिया गया। गांव की जनसंख्या के हिसाब से हर एक व्यक्ति के हिस्से में करीब चार सौ रुपए आया। इसके अलावा आठ हजार रुपए खर्च कर पंचायत की ओर से मुर्गा-मटन की पार्टी भी की गई। मामले में पुलिस और जिला प्रशासन को अब तक कोई खबर नहीं मिली है। 

 

वेब डेस्क, IBC24

Web Title : CG News:

ibc-24