कोरबा News

बिजली प्लांट में जूनियर इंजीनियर आग की लपटों से घिरा, गंभीर

Created at - July 12, 2018, 7:32 pm
Modified at - July 12, 2018, 7:32 pm

कोरबा। यहां स्थित डॉ श्यामा प्रसाद मुखर्जी विद्युत उत्पादन संयंत्र में उस वक्त हड़कंप मच गया जब काम के दौरान एक जूनियर इंजीनियर आग की लपटों में घिर गया। उसने नहर में कूद कर अपनी जान बचाई इस मंजर को देखकर पूरे संयंत्र में अफरा तफरी मच गई आनन-फानन में गंभीर रूप से झुलसे जूनियर इंजीनियर को अस्पताल में दाखिल कराया गयाउसकी स्थिति गंभीर बताते हुए डॉक्टर ने हायर सेंटर रेफर कर दिया है

बताया जा रहा है कि जूनियर इंजीनियर नितेश परिहार कोरबा के डॉक्टर श्यामा प्रसाद मुखर्जी पावर संयंत्र में काम करता है गुरुवार की सुबह भी वह यूनिट नंबर 2 में काम कर रहा था वह पंप नंबर 2 के पैनल को चेक कर रहा था तभी अचानक ब्लास्ट होने के कारण वह पूरी तरह से आग की चपेट में आ गया और देखते ही देखते उसके कपड़ों में आग लग गई।

यह भी पढ़ें : सरकार ने मानी सुप्रीम कोर्ट की ये सलाह तो आप की शादी पर रहेगी सरकारी नजर, जानिए मामला

आग की लपटों से घिरे जूनियर इंजीनियर नितेश ने नहर में छलांग लगाकर अपने आप को बचाया, लेकिन तब तक वह करीब 60 फ़ीसदी झुलस चुका था साथी कर्मचारियों ने उसे नहर से बाहर निकाला और अस्पताल ले जाने का प्रयास किया। लेकिन इस दौरान संयंत्र में मौजूद एंबुलेंस भी गायब थी ऐसे में एक निजी कर्मी की कार में घायल इंजीनियर को अस्पताल में दाखिल कराया गया उसकी स्थिति को गंभीर देखते हुए उसे हायर सेंटर रेफर कर दिया गया है

इस मामले को लेकर श्रमिक संगठन ने प्रबंधन पर लापरवाही का आरोप लगाया है और कहा कि ज्यादातर मॉड्यूलर खराब हो चुके हैं और उनमें ब्लास्ट होने की घटना हो रही है ऐसे में प्रबंधन इसे जल्द दुरुस्त करें और साथ ही प्लांट में कर्मचारियो की कमी को जल्द पूरा करे।

वेब डेस्क, IBC24


Download IBC24 Mobile Apps

Trending News

IBC24 SwarnaSharda Scholarship 2018

Related News