वरिष्ठ पत्रकार कल्पेश याग्निक का दिल का दौरा पड़ने से निधन

Reported By: Abhishek Mishra, Edited By: Abhishek Mishra

Published on 13 Jul 2018 08:47 AM, Updated On 13 Jul 2018 08:47 AM

इंदौर। देश के वरिष्ठ पत्रकार और लेखक कल्पेश याग्निक नहीं रहे। कल रात करीब साढ़े 10 बजे दफ्तर में काम के दौरान उन्हें दिल का दौरा पड़ा। तत्काल उन्हें बॉम्बे अस्पताल ले जाया गया। जहां करीब साढ़े तीन घंटे तक इलाज के बाद भी उनकी स्थिति में सुधार नहीं हुआ।

डॉक्टरों के मुताबिक इलाज के दौरान ही उन्हें दिल का दूसरा दौरा पड़ा और फिर रात करीब 2 बजे डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया। उनकी अंतिम यात्रा आज सुबह 11 बजे इंदौर के 66, साकेत नगर स्थित उनके निवास से तिलक नगर मुक्तिधाम के लिए निकलेगी। 21 जून 1963 को जन्मे कल्पेश याग्निक प्रखर वक्ता और विख्यात पत्रकार थे और अपनी विशिष्ट पैनी लेखन शैली के लिए जाने जाते थे।

देश की हिंदी पत्रकारिता की वे एक अहम शख्सियत थे। देश और समाज में चल रहे संवेदनशील मुद्दों पर बेबाक और निष्पक्ष लिखते थे। करीब साढ़े तीन घंटे तक उनका इलाज चला, लेकिन तमाम प्रयासों के बाद भी उनकी स्थिति में सुधार नहीं हुआ। नके परिवार में मां प्रतिभा याग्निक, पत्नी भारती, बड़ी बेटी शेरना, छोटी बेटी शौर्या, भाई नीरज और अनुराग हैं।

 

 

वेब डेस्क, IBC24

Web Title : Kalpesh Yagnik:

ibc-24