आर्थराइटिस में कौन सा योगा करें

Reported By: Shahnawaz Sadique, Edited By: Shahnawaz Sadique

Published on 17 Jul 2018 07:25 PM, Updated On 17 Jul 2018 07:25 PM

गठिया का दर्द बड़ा ही जानलेवा होता है और सबसे बुरी बात तो यह है कि इसके दर्द का कोई परमानेन्‍ट इलाज नहीं है। गठिया रोग को आमवात, संधिवात आदि नामों से भी जाना जाता है। इस रोग में सबसे पहले शरीर में निर्बलता और भारीपन के लक्षण दिखाई देते हैं।शरीर के तमाम जोड़ों में इतना दर्द होता है कि उन्हें हिलाने पर ही चीख निकल जाए, खासकर सुबह के समय।

ये भी पढ़ें -नाले में बहे दो बच्चे, एक को निकाला गया सुरक्षित दूसरे की तलाश जारी

 इसके अलावा शरीर गर्म हो जाता है, लाल चकत्ते पड़ जाते हैं और जलन की शिकायत भी होती है। जोड़ों के इर्द-गिर्द सख्त गोलाकार गांठें जैसी उभर आती हैं, जो हाथ पैर हिलाने पर चटकती भी हैं। शरीर के किसी भी अंग को हिलाने पर दर्द, जलन और सूजन की तकलीफ झेलनी पड़ती है। यदि आप अपने शरीर को हिलाना-डुलाना बंद कर देगे तो गठिया रोग आपको खा जाएगा। इसलिये यह बहुत जरुरी है कि आप कुछ योगा आसन करें और गठिया दर्द से राहत पाएं।आइये जानते हैं अर्थराइटिस में कौन सा योग करें।

 

 

 

 

सूर्य नमस्‍कार

वज्रासन

ताड़ आसन

सेतुबंध आसन

सुखआसन

वीरभद्र आसन

गोमुखासन

बालासन

विपरीतकर्णी आसन

 

Web Title : yoga for arthritis:

ibc-24