सरगुजा News

डॉक्टर ने एंबुलेंस चलाकर प्रसूता को अस्पताल में कराया भर्ती.. हड़ताल पर हैं एंबुलेंस कर्मी

Created at - July 19, 2018, 12:46 pm
Modified at - July 19, 2018, 12:50 pm

बलरामपुर। बलरामपुर में एक चिकित्सक ने एंबुलेंस चलाकर गर्भवती महिला को अस्पताल में भर्ती कराकर उसका प्रसव कराया। प्रसव के बाद जच्चा और बच्चा दोनों स्वस्थ हैं। दरअसल 102 और 108 एंबुलेंस कर्मियों के हड़ताल पर चले जाने से स्वास्थ्य व्यवस्था चरमाया हुआ है। एंबुलेंस चालकों ने एंबुलेंस और सरकारी मोबाइल दफ्तर में जमा कराया हुआ है। जिसमें रोजाना कई कॉल्स आते रहते हैं।

पढ़ें- आईटीआई के छात्रों ने बनाया शू चार्जर, बिना बिजली मोबाइल होगा चार्ज ..देखें वीडियो

सामरी स्वास्थ्य केंद्र में भी महतारी एक्सप्रेस में लगातार घंटी बज रही थी। स्वास्थ्य केंद्र में पदस्थ डॉक्टर एस के शुक्ला ने फोन रिसीव किया तो पता चला कि ग्राम सरईडीह में एक महिला गर्भवती है जो प्रसव पीड़ा में तड़प रही थी। डॉक्टर ने देरी न करते हुए एंबुलेंस लेकर प्रसूता को लेने गांव पहुंचे। और प्रसूता को लेकर अस्पताल में भर्ती कराया। अस्पताल में नर्स ने महिला का प्रसव कराया। जिसके बाद जच्चा-बच्चा दोनों की जान बचाई। डॉक्टर के इस मानवता भरे काम की सभी सराहना कर रहे हैं।

 पढ़ें- बंदर दफ्तर के अंदर, अनोखे फरियादी से थाने में मचा हड़कंप ...देखें वीडियो

 

हाल में एंबुलेंस नहीं पहुंचने पर एंबुलेंस चालक की लापरवाही से मरीजों की मौत का मामला तूल पकड़ा है। राजधानी रायपुर में एंबुलेंस का दरवाजा दो घंटे तक नहीं खुला था। जिससे दो माह की नवजात बच्ची की दम घुटने से मौत हो गई थी। धमतरी में महतारी एक्सप्रेस नहीं पहुंचने से ऑटो में महिला की डिलीवरी करानी पड़ी थी। वहीं भानुप्रतापपुर में एंबुलेंस चालक ने प्रसव के बाद महिला और नवजात को तेज बारिश के बीच जंगल में छोड़कर रवाना हो गया था। एंबुलेंस चालकों की इस लापरवाही से लोग काफी आक्रोशित हैं। 

वेब डेस्क, IBC24


Download IBC24 Mobile Apps

Trending News

IBC24 SwarnaSharda Scholarship 2018

Related News