News

नकद-नौकरी घोटाला: सांसद की बेटी सहित 19 अधिकारी गिरफ्तार,11 दिन की पुलिस रिमांड

Created at - July 20, 2018, 12:48 pm
Modified at - July 20, 2018, 12:48 pm

गुवाहाटी। भाजपा सांसद आरपी शर्मा की बेटी सहित 19 सरकारी अधिकारियों को गिरफ्तार किया गिया है। सभी को 11 दिनों के पुलिस रिमांड पर भेजा गया है। दरअसल 2016 में असम पब्लिक सर्विस कमीशन की परीक्षा आयोजित की गई थी। जिसमें इन सभी अभ्यार्थियों की हैंडराइटिंग उनकी उत्तर पुस्तिका से मेल नहीं हो रही थी।

पढ़ें- अविश्वास प्रस्ताव पर चर्चा, अब तक 26 बार, दो दफे गिरी सरकार, जानिए इतिहास

एपीएससी में नौकरी के लिए नकदी घोटाला मामले की जांच कर रही डिब्रूगढ़ पुलिस ने असम सिविल सेवा (एसीएस), असम पुलिस सेवा (एपीएस) और सहायक सेवाओं के 2016 बैच के 19 अधिकारियों को समन किया था। सासंद की बेटी पल्लवी शर्मा इन 19 अधिकारियों में शामिल हैं। पल्लवी खुद भी एक पुलिस अधिकारी हैं। सूत्रों ने बताया कि घोटाले में आरोपी अधिकारियों के शामिल होने के ठोस सबूत मिल चुके हैं। इन अधिकारियों के उत्तर पत्र की फॉरेंसिक परीक्षा में गड़बड़ी के संकेत मिलने के बाद उन्हें हस्तलेखन जांच में शामिल होने के लिए कहा गया।

पढ़ें- होटलों में क्राइम ब्रांच की रेड, संदिग्ध हालत में पकड़े गए युवक-युवतियां

डिब्रूगढ़ के पुलिस अधीक्षक गौतम बोरा ने कहा कि 19 अधिकारियों के हस्तलेखन का उनके उत्तर पत्र से मिलान नहीं हुआ, जिन्हें पहले फॉरेंसिक जांच में फर्जी पाया गया। उन्होंने कहा कि अधिकारियों को गुवाहाटी में गिरफ़्तार किया गया। सभी 19 अधिकारियों के नियुक्ति एपीएससी के अध्यक्ष राकेश पाल के कार्यकाल के दौरान हुई थी। पाल और तीन अन्य अधिकारियों को 2016 में इस मामले में गिरफ्तार भी किया गया था। सूत्रों के मुताबिक, अभ्यर्थियों ने राकेश पॉल को 15 से 30 लाख रुपये की रिश्वत दी, जिन्होंने कथित रूप से उनके उत्तर पत्रों को फ़र्ज़ी उत्तर पत्रों से बदला था।

 

वेब डेस्क, IBC24


Download IBC24 Mobile Apps

Trending News

Related News