कवर्धा News

कीचड़ भरे रास्ते में खाट पर गर्भवती को पहुंचाया अस्पताल, ऐसे गूंजी किलकारियां

Created at - July 28, 2018, 2:00 pm
Modified at - July 28, 2018, 2:19 pm

कवर्धा। कवर्धा जिले के ग्रामीण क्षेत्रों में खस्ताहाल सड़कों के चलते एंबुलेंस जरुरतमंदों तक नहीं पहुंच पा रही है। पेंड्री गांव में एक गर्भवती महिला को एंबुलेंस नहीं पहुंचने पर खाट में उठाकर तीन किलोमीटर चलना पड़ा । तब जाकर महिला को अस्पताल पहुंचाया गया। दरअसल गर्भवती महिला समारिन बाई को प्रसव पीड़ा होने पर 102 महतारी एक्सप्रेस को फोन किया गया। बोडला मुख्यालय से पेंड्री जाने के लिए महतारी एक्सप्रेस रवाना तो हुई लेकिन गांव तक नहीं पहुंच पाई। क्योंकि मुख्य मार्ग से गांव तक पहुंचने के लिए 3 किमी अंदर जाना पडता है। 

देखें वीडियो-

पढ़ें- चुनाव कराने में अफसर काबिल हैं या नहीं, परखने हुई परीक्षा

तीन किमी का यह मार्ग कीचड़ से भरा हुआ है जिसके चलते वाहनों की आवाजाही नहीं प्रभावित है। ऐसे में स्वास्थ्य कार्यकर्ता महिला के गांव तक पैदल पहुंचे जहां परिजनों और स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं की मदद से खाट पर महिला को लेकर वाहन तक पहुंचे, तीन किमी तक पैदल आने के बाद वाहन से बोडला स्वास्थ्य केन्द्र में महिला को भर्ती कराया गया। 

पढ़ें- कंगना रनौत के हाथों छत्तीसगढ़िया होंगे स्मार्ट, 30 को मेगा इवेंट

यह मामला सामने आने के बाद एक बार फिर विकास के दावों की पोल सब के सामने आ चुकी है। बोडला से मात्र 8 किमी दूर स्थित पेड्री गांव जाने के लिए सड़क न होने से ग्रामीणों को इस प्रकार की समस्याएं बरसात के दिनों में आए दिन देखने को मिलती रहती है। लेकिन जिम्मेदार विभाग व अधिकारी इस ओर ध्यान ही नहीं देते। इस मामले में स्वास्थ्य विभाग व महतारी एक्सप्रेस की भूमिका जरूर प्रशंसा के पात्र रही।

 

वेब डेस्क, IBC24


Download IBC24 Mobile Apps

Trending News

Related News