स्किन डिसीज में कौन सा योग अपनाए

Reported By: Renu Nandi, Edited By: Renu Nandi

Published on 31 Jul 2018 12:45 PM, Updated On 31 Jul 2018 12:45 PM

 योग सिर्फ शरीर को तंदरुस्त करने का काम नहीं करता बल्कि इससे चेहरे की खूबसूरती और त्वचा से सम्बंधित बीमारियों का भी उपचार होता है। इस बात से अब सभी भलीभांति परिचित हो चुके है की योग हमारी शारीरिक और मानसिक स्थिति सुधारता है।  साथ ही साथ सुंदरता बढ़ाने में भी योग जिम्मेदार है|योग के अभ्यास से ना केवल आप बीमारी रहित शरीर बल्कि त्वचा की समस्याओ से भी छुटकारा पाते है। आज के समय में हर कोई त्वचा की समस्या  से  परेशान है। इसके पीछे का मुख्य कारण गलत खान पान, रासायनिक सौंदर्य प्रसाधन का इस्तेमाल करना, व्यायाम की कमी आदि है। यह सभी हमारी त्वचा पर गलत प्रतिक्रिया करते है, जिसके चलते कई लोग मुहासे, झुर्रिया, एक्जिमा या सोरायसिस जैसी परेशानियों से ग्रस्त है। 

कपालभाति

कपालभाति प्राणायम का अभ्यास शरीर को कई असाध्य रोगों का इलाज जैसे पेट के रोग, कैंसर, मधुमेह, दमा आदि से लड़ने में मदद करते  है।इसलिए इसे जीवन के लिए संजीवनी औषधि भी कहा जाए तो भी गलत नहीं होगा। यह शरीर से विषाक्त पदार्थों को हटाकर शरीर को साफ करता है।

इसका अभ्यास त्वचा की दो समस्याए सोरायसिस और एक्जिमा में राहत दिलाता  है। यह दोनों रोगों में आपकी त्वचा रूखी हो जाती है और इन पर पपड़ी जमने लगती है। जिसके चलते आपको हमेशा फुल कपड़ो में रहना पड़ता  है। योग गुरु की माने तो यह दोनों समस्याए तनाव और शरीर में विषाक्त पद्धार्तो के बढ़ने के कारण होती है। इसके चलते सूजन आती है जो त्वचा में फैलने लगती है| कपालभाति के अभ्यास से इसके कारण ही नहीं बनते। 

उत्तानासन

रोजमर्रा की जिंदगी में त्वचा की एक समस्या ऐसी है, जिससे अधिकतर लोग पीड़ित  है। जी हां हम मुहासों की बात कर रहे है। इसके होने के कारण तनाव, शरीर में टॉक्सिन्स का बढ़ना , मल त्याग में व्यवधान, त्वचा का ठीक से ख्याल ना रखना आदि इसके कारणों में से कुछ  है। मुँहासे को केवल बाहरी रूप से दवाई से लेने से कुछ नहीं होता इसे आपको अंदर से साफ़ करने की जरुरत है। 

उत्तानासन इसे ठीक करने के लिए एक लाभकारी योग आसन है| यह दिमाग को शांत करने और शरीर की तंत्रिका प्रतिक्रिया को सही करके मुँहासे दूर करने में मदद करता है। 

वेब डेस्क IBC24

Web Title : Yoga for Skin Care

ibc-24