रायपुर News

NRC मुद्दे पर रमन का बयान- देश धर्मशाला नहीं है, जो कोई भी बाहरी घुस जाए

Created at - August 3, 2018, 4:24 pm
Modified at - August 3, 2018, 4:24 pm

दुर्ग। देश में NRC मुद्दे पर छिड़ी विवाद के बाद छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री रमन सिंह ने एनआरसी बनाने की वकालत की है। सीएम ने कहा है कि हमारा देश धर्मशाला नहीं है जो कोई भी बाहर से आकर घुस जाए। सीएम ने ऐसे लोगों को देश से बाहर खदेड़ने पर जोर दिया है। 

पढ़ें- मध्य प्रदेश के कड़कनाथ को मिला जीआई टैग, छत्तीसगढ़ ने भी किया था दावा

वहीं नेशनल रजिस्टर ऑफ सिटीजन्स यानि एनआरसी का मुद्दा उठाने वाले भारत रक्षा मंच ने पूरे देश सहित मध्य प्रदेश में एनआरसी बनाने की मांग है। भारत रक्षा मंच के सूर्यकांत केलकर ने दावा किया है कि मध्य प्रदेश में भी लाखों बांग्लादेशी नागरिक रह रहे हैं, उनके ख़िलाफ कार्रवाई की जाना चाहिए। भारत रक्षा मंच के राष्ट्रीय संयोजक सूर्यकांत केलकर का दावा है कि भोपाल, इंदौर सहित प्रदेश के और भी कई बड़े जिलों में लाखों बांग्लादेशी रह रहे हैं। उन्होंने बताया अगर मध्य प्रदेश की झुग्गी बस्तियों की जांच की जाए, तो वहां 2 से 5 लाख के बांग्लादेशी सहित गैर भारतीय अवैध रूप से रहते मिलेंगे।

पढ़ें- किशोरियों को पोषण आहार नहीं देने का आदेश, दिया शिशु मृत्यु दर में कमी का हवाला

सूर्यकांत केलकर ने कहा है की मानवाधिकार वो बंगलादेशी घुसपैठियों के लिए वर्क परमिट के साथ भारत में काम करने के लिए सहमत है पर घुसपैठियों को चिन्हित कर बाहर किया जाना चाहिए। केलकर ने राजनीतक दलों के द्वारा एनआरसी का विरोध करने पर पर कहा की विरोध करने वालों को इनके मानवाधिकार की नहीं इनके वोटबैंक की चिंता है। वहीं केलकर की मांग का बीजेपी ने समर्थन किया है। बीजेपी के प्रवक्ता रजनीश अग्रवाल ने कहा है की घुसपैठियों को बाहर जाना चाहिए इसलिए वो एनआरसी मध्य प्रदेश में लागू करने की मांग से सहमत है। वहीं कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष कमलनाथ ने कहा है की एनआरसी सही तरीके से लागू हो पर इसमें सियासत न हो।

वेब डेस्क, IBC24


Download IBC24 Mobile Apps

Trending News

Related News