रायपुर News

आदिवासी दिवस के अवसर पर प्रतिभाओं का सम्मान, मलखंब ने मोहा सीएम का मन

Created at - August 9, 2018, 3:22 pm
Modified at - August 9, 2018, 3:26 pm

 रायपुर - राजधानी रायपुर के बूढ़ा तालाब के निकट स्थित सरदार बलबीर सिंह जुनेजा इंडोर स्टेडियम में आज विश्व आदिवासी दिवस मनाया जा रहा है। इस  कार्यक्रम का शुभारंभ मुख्य अतिथि डॉ रमन सिंह ने किया है उनके साथ अति-विशिष्ट अतिथि के रूप में जुएल ओराम, केन्द्रीय मंत्री भारत शासन भी उपस्थित थे।

ये भी पढ़े -रेल मंत्री से मिले रमन, छत्तीसगढ़ को मिली तीन नई ट्रेन,यात्री सुविधाओं पर होगा विस्तार

ज्ञात हो कि इस सम्मेलन में  प्रदेश भर के आदिवासी पहुंचे है। जिसके तहत प्रदेश की आदिवासी प्रतिभाओं का सम्मान कार्यक्रम आयोजित किया जा रहा है। बता दे कि विश्व आदिवासी दिवस  में प्रदेश की सभी जनजातियों के कौशल का प्रदर्शन किया जा रहा है। जिनमें कर्मा,गौर,बैग नृत्य के साथ साथ  मलखंब का विशेष प्रदर्शन किया गया। इस दौरान  नारायणपुर के पोटा केबिन के विद्यार्थियों ने भारत के पारंपरिक विधा ' मलखम्ब ' का उत्कृष्ट प्रदर्शन किया जिसे देखकर  मुख्यमंत्री डॉ रमन सिंह ने स्वयं खड़े हो कर इन बच्चों की हौसला अफजाई की।

ये भी पढ़े-लगातार हाथियों का उत्पात जारी, 20 से ज्यादा मकानों में की तोड़ फोड़

 

ज्ञात हो की संयुक्त राष्ट्र संघ ने वर्ष 1994 में आदिवासी समाज के महत्व को समझते हुए आदिवासी समाज में शिक्षा को बढ़ावा देने, स्वास्थ्य संबंधी विकास, गरीबी एवं बेरोजगारी उन्मूलन तथा उन्हें राष्ट्र की मुख्यधारा से जोड़ने, आदिवासियों में आत्म सम्मान एवं आत्म विश्वास बढ़ाने हेतु महासभा में प्रस्ताव पारित कर 9 अगस्त को विश्व आदिवासी दिवस के रूप में घोषित किया था तब से प्रतिवर्ष 9 अगस्त को विश्व आदिवासी दिवस के रूप में मनाया जाता है।

वेब डेस्क IBC24

 


Download IBC24 Mobile Apps