IBC-24

सुकमा मुठभेड़ को नक्सलियों ने बताया फर्जी,कहा-पुलिस ने निर्दोष ग्रामीणों को बंधक बनाकर की हत्या

Reported By: Abhishek Mishra, Edited By: Abhishek Mishra

Published on 11 Aug 2018 12:18 PM, Updated On 11 Aug 2018 12:18 PM

रायपुर। नक्सलियो की दक्षिण बस्तर डिविजनल कमेटी ने नुलकातोंग मुठभेड़ के विरोध में पर्चा जारी कर 13 अगस्त को सुकमा बंद का आह्वान किया है। नक्सलियों की ओर से जारी पर्चे में लिखा है कि नक्सली उन्मूलन के नाम पर ऑपरेशन समाधान के तहत गांवों में हमला किया जा रहा है। नक्सलियों का आरोप है कि पुलिस जवान 50 से अधिक ग्रामीणों को अपने साथ ले गए और हाथ-पैर बांधकर मार डाला। पुलिस पर और भी कई आरोप लगाते हुए उन लोगों के नाम की सूची जारी की है, जो मुठभेड़ में मारे गए हैं। इन्हें नक्सलियों ने बेगुनाह ग्रामीण बताया है।

आपको बतादें सुकमा के नुलकातोंग मुठभेड़ में पुलिस ने 15 माओवादियों को मार गिराया था। फोर्स ने एक महिला नक्सली समेत दो माओवादियों को जिंदा गिरफ्तार भी किया था। जिनसे 16 देसी बंदूके भी जब्त की गई थी। 

पढ़ें- राहुल बाबा ये क्या बोल गए...छत्तीसगढ़ सरकार ने BHEL से क्यों नहीं खरीदा मोबाइल ! जमकर ट्रोल

सुकमा की घटना से बौखलाए नक्सलियों ने दंतेवाड़ा में खूब उत्पात मचाया है। बीते दो दिनो में 9 वाहनों को आग के हवाले कर अब नक्सलियों ने एक युवक की  मुखबिरी के शक में हत्या कर दी। युवक का नाम लोकेश करतम है जो ग्राम बड़े गु़डरा का रहने वाला है। 

 

वेब डेस्क, IBC24

Web Title : Naxal Statement:

ibc-24