कांकेर News

कांकेर में झमाझम बारिश का कहर, नदी-नाले भी उफान पर, तालाब फूटने से घर और दफ्तर लबालब

Created at - August 15, 2018, 4:57 pm
Modified at - August 15, 2018, 8:17 pm

कांकेर। छत्तीससगढ़ के कांकेर में भारी बारिश के कारण जनजीवन अस्त व्यस्त है। हालात यह है कि बारिश के कारण बस स्टैंड, सरकारी दफ्तर लबालब हैं। कंकालिन पारा स्थित दुधावा तालाब फूटने से शहर के साथ-साथ कलेक्टर परिसर, जिला न्यायालय, मिनी स्टेडियम और आसपास की दुकानें भी जलमग्न हो गए हैं। यहां लंबे समय से  तालाब की पिचिंग की मांग कर रहे थे, लेकिन प्रशासन ने समय रहते इस तरफ ध्यान नहीं दिया। नतीजन दो घंटे की मूसलाधार बारिश से तालाब फूट गया।

 

जिले में हो रही भारी बारिश की वजह से दूध नदी भी उफान पर है। जिसके चलते पुराने बस स्टैंड के स्टॉप डैम के ऊपर से पानी बह रहा है। नदी के किनारे बसे गांवों को एहतियात के तौर पर खाली कराया जा रहा है। प्रशासन पुलिस और होम गार्ड की टीम मौके पर मौजूद है। बारिश की वजह से गढ़िया ताबाल में भूस्खलन हुआ है। जिसकी वजह से रेलिंग उखड़ गए हैं।

पढ़ें- रायपुर में कुष्ठ रोगियों के बीच पहुंची अभिनेत्री नगमा, मिलकर जाना हाल-चाल

 

बाढ़ की संभावना के मद्देनजर लोगों के लिए सामुदायिक भवन की व्यवस्था की की गई है। लोगों को नदी के पास ना जाने की हिदायत दी गई है। वहीं इलाके के गढिया पहाड़ में बारिश के बाद भुसलखन से रेलिंग उखड़ गईं है। सीसी रोड़ में पत्थरों के गिरने से पहाड़ के करीब रहने वाले लोगों में भय बना हुआ है।

 

वेब डेस्क, IBC24


Download IBC24 Mobile Apps

Trending News

Related News