News

अक्षय कुमार की गोल्ड के आगे फीकी है जॉन की सत्यमेव जयते

Created at - August 16, 2018, 10:19 am
Modified at - August 16, 2018, 10:19 am

इंटरटेनमेंट डेस्क। 15 अगस्त बुधवार को 2 फिल्में रिलीज हुई है। अक्षय कुमार की गोल्ड और जॉन अब्राहम की सत्यमेव जयते। डायरेक्टर रीमा कागती की फिल्म गोल्ड आजाद भारत को पहला हॉकी गोल्ड दिलाने की कहानी है। फिल्म में देशभक्ति, स्पोर्ट्स, ड्रामा, इमोशन, कहानी सबकुछ है। लीड रोल में अक्षय कुमार, कुनाण कपूर, विनीत  कुमार सिंह मौनी रॉय,  जैसे तमाम कलाकार हैं।

ये भी पढ़ें-10 घंटे के रेस्क्यू के बाद सुल्तानगढ़ झरने में बहे 45 लोगों को बचाया गया

फिल्म की शुरूआत 1936 में होती है जहां इंडिया तीसरी बार गोल्ड जीतती है लेकिन वो ब्रिटिश इंडिया टीम कहलाती है। ऐसे में टीम के मैनेजर या कहें कोच तपनदास (अक्षयकुमार) संकल्प लेते हैं कि वो आजाद भारत को उसका पहला गोल्ड दिलाकर रहेगा और भारत का झंडा लहराएगा और फिर तपनदास नई हॉकी टीम इंडिया तैयार करने में जुट जाता है।

ये भी पढ़ें-लाल परेड में शिवराज ने फरहाया झंडा, शहीदों और किसानों के लिए कई घोषणाएं, पढ़िए खबर

ऐसे में भारत का बंटवारा हो जाता है उसका सपना टूट जाता है लेकिन वो हार नहीं मानता और देश के कोने कोने से खिलाड़ियों को चुनता है और एक शानदार टीम तैयार करता है इस बीच हिन्दुस्तान के बंटवारे का दर्द भी देखने को मिलेगा जो आपको रुला देगा। अब तपनदास अपनी नई इंडियन हॉकी टीम को कैसे 1948 लंदन ऑलंपिक में पहुंचाता है ये जानने के लिए आपको फिल्म देखनी पड़ेगी। अक्षय कुमार ने बंगाली बाबू तपनदास के रोल को बखूबी निभाया है वो बंगाली बोलते नहीं बल्कि लहजे से बंगाल की झलक दिखती। बंगाली बाला मौनी राय ने भी छोटे से रोल को बखूबी निभाया। वो तपनदास की पत्नी की रोल में हैं। वहीं कुणाल कपूर, विनीत कुमार, सन्नी कौशल सभी कलाकारों ने कमाल की एक्टिंग की है फिल्म का म्यूजिक भी कमाल का है। फिल्म की स्क्रिप्ट बेहद शानदार है। तारीफ करनी पड़ेगी फिल्म के क्लाइमैक्स सीन की जिसे देखकर आपको लगेगा, जैसे आप 1948 के दौर में हो और खुद लंदन ओलंपिक में भारतीय हॉकी टीम को चैयर कर रहे हैं और आजाद भारत को पहला गोल्ड मैडल मिलने के गवाह बन रहे हैं। ये सारी चीजें बहुत की शानदार तरीके से फिल्माया गया। आपको फिल्म देखकर कहीं भी बोरियत महसूस नहीं होगी। ये फिल्म आपको अपने पूरे परिवार के साथ देखनी चाहिए।

 ये भी पढ़ें-देश भर में अटल जी के लिए दुआओं का दौर, एम्स पहुंचे सियासी पार्टियों के दिग्गज

वहीं दूसरी फिल्म जॉन अब्राहम मनोज बाजयेई की सत्यमेव जयते। जिसका डायरेक्शन किया है मिलाप मिलन झवेरी जो इस बार एक्शन पैक्ड फिल्म लेकर आए हैं। फिल्म की कहानी वीर राठौर(जॉन अब्राहम) अपनी धुन में भ्रष्ट पुलिस ऑफिसर को चुन चुनकर मारता है उन्हें सबक सिखाता है। जिससे पुलिस विभाग में हड़कंप मच जाता है और वीर राठौर को ढूढने का जिम्मा मिलता है शिवांग राठौर (मनोज बायपेयी) को। जो वीर को पकड़ने के लिए जाल बिछाता है और एंट्री होगी है आय़शा शर्मा की और फिल्म में ट्विस्ट एंड टर्न शुरू हो जाते हैं इन वीर और शिवांग के बीच जंग शुरू हो जाती है कौन जीतता है ये जानने के लिए आपको फिल्म देखनी पड़ेगी।

ये भी पढ़ें- केरल में बाढ़ से बदतर हुए हालात, 67 पहुंचा मौत का आंकड़ा, पीएम ने कहा- हर संभव मदद की जाएगी

जॉन का रोल काफी पॉवरफुल है। डायलॉग्स सीटियां बजाने वाले हैं वहीं मनोज बाजपेयी के लिए पुलिस ऑफिसर का रोल निभाया कोई नई बात नहीं है वो इस तरह का रोल पहले भी निभा चुके हैं लेकिन जॉन के साथ उनकी जोड़ी कमाल की लगी है हां आय़शा शर्मा का डेब्यू दमदार नहीं रहा उनका रोल ज्यादा नहीं है। अगर ना भी होतीं तो चल जाता। वहीं फिल्म में नोरा फतेही पर फिल्माया दिलबर दिलबर सॉन्ग पहले ही सुपरहिट हो चुका है और फिल्म में ये गाना कमाल का लगा है। फिल्म का पहला भाग थोड़ा लंबा है बेवजह खींचा हुआ लगता है क्लाइमैक्स भी कमजोर है फिल्म में और सस्पेंस होना चाहिए था। लेकिन फिर भी सिंगल थिएटर में ये फिल्म खूब धमाल मचाएगी और कहां बच्चों के साथ ये फिल्म ना देखें क्योंकि इस फिल्म को A सर्टिफिकेट मिला है।

वेब डेस्क IBC24


Download IBC24 Mobile Apps