IBC-24

खतरनाक हो सकते हैं ऐसे स्टंट, रस्सी के सहारे उफनती नदी को पार करने की कोशिश, रहें सावधान

Reported By: Abhishek Mishra, Edited By: Abhishek Mishra

Published on 16 Aug 2018 01:48 PM, Updated On 16 Aug 2018 01:48 PM

कांकेर। लोग हादसों से सबक लेने के बजाए जान बूझकर अपनी जान जोखिम में डाल रहे हैं। कांकेर के मलांजकुडुम वाटर फॉल में पानी के तेज बहाव के बीच एक युवक हवा में लटक रहे तार के जरिए पानी के तेज बहाव को पार कर रहा है। पानी का बहाव इतना तेज है कि कभी भी कोई बड़ा हादसा हो सकता है।  

पढ़ें- अटल बिहारी वाजपेयी के चुनिंदा भाषण जो रहे चर्चाओं में, देखिए वीडियो

दूधनदी के उदगम स्थल मलांजकुडुम के वाटर फाल में वन विभाग द्वारा अधूरे बनाए गए झूले नुमा तार पर लटक कर लोग वाटर फाल के एक छोर से दूसरे छोर जाने का प्रयास कर रहे है। लेकिन उनको रोकने के लिए ना तो प्रशासन का कोई नुमाइंदा मौजूद है और ना ही पुलिस।

जिला मुख्यालय से 17 किमी दूर इस वाटर फाल मैं सुरक्षा के कोई इंतेजाम नहीं है। वाटर फॉल में हर रोज हजारों लोग इसे देखने यहां पहुच रहे हैं। दुधनदी उफान पर है और पानी का बहाव काफी तेज । कुछ दिन पहले ही एक युवक इस दुधनदी पार करते वक्त बह गया था। जिसका आज 72 घंटो से अधिक समय बीत जाने के बाद भी पता नहीं चल पाया है। 

पढ़ें- 10 घंटे के रेस्क्यू के बाद सुल्तानगढ़ झरने में फंसे 45 लोगों को बचाया गया.. देखें वीडियो

छत्तीसगढ़-मध्यप्रदेश का भरोसेमंद चैनल होने के नाते IBC24 लोगों को आगाह करता है कि वो बेवजह अपनी जान जोखिम में ना डालें। हम ये वीडियो लोगों को सचेत करने के मकसद से दिखा रहे हैं। कि आप अपनी जान जोखिम में ना डाले और हादसों से सबक लें। आपको बतादें बुधवार को मध्यप्रदेश के शिवपुरी स्थित सुल्तानगढ़ के झरने में 45 लोग पानी के तेज प्रवाह में बह गए थे। गनीमत रही रेस्क्यू टीम ने सभी को बचा लिया। लेकिन पानी के तेज प्रवाह में बहे 11 लोगों का अभी तक कोई सुराग नहीं मिल पाया है।

 

 

 

वेब डेस्क, IBC24

Web Title : Watch Video:

ibc-24