News

स्त्री के सामने नहीं टिक पाएंगे यमला पगला दीवाना, फिर से

Created at - August 31, 2018, 6:42 pm
Modified at - August 31, 2018, 6:42 pm

एंटरटेनमेंट डेस्क। अगस्त के आखिरी हफ्ते में स्त्री और यमला पगला दीवाना फिर से रिलीज हुईं हैं। दोनों ही फिल्में कॉमेडी के साथ रोमांस से भरपूर हैं, लेकिन 'स्त्री' में कॉ़मेडी, रोमांस के साथ हॉरर का तड़का है जो दर्शकों को खूब पसंद आ रही है।

फिल्म 'स्त्री' की कहानी है चंदेरी गांव की है जहां विक्की (राजकुमार राव), जना, बिट्टी (अभिषेक) तीन दोस्त हैं और इनकी कपड़ों की दुनिया है विक्की को चंदेरी का मनीष मल्होत्रा कहा जाता है उसके हाथों में जादू है वो अपनी सिलाई और डिजाइन से सबका दिल जीत लेता है, लेकिन चार दिनों की पूजा के दौरान गांव में एक स्त्री का साया मंडराता है स्त्री गांव के आदमियों को उठाकर ले जाती है और छोड़ जाती सिर्फ कपड़े। 'स्त्री' नाम की चुडैंल से बचने के लिए हर घर की दीवार पर लिखा होता है। 

ये भी पढ़ें-ऋतिक के फ़्लर्ट की खबरों का दिशा ने दिया जवाब, पत्रकारों पर भी भड़के अभिनेता

ओ स्त्री कल आना लेकिन विक्की इन बातों पर यकिन नहीं करता। इसी बीच विक्की को प्यार हो जाता है पूजा में आई एक मिस्ट्रीगर्ल (श्रद्धा कपूर) से और फिर 'स्त्री' विक्की के सबसे अच्छे दोस्त जना को उठाकर ले जाती है बस यहीं से कहानी में ट्विस्ट आता है विक्की को स्त्री के होने का अहसास होता है। अब स्त्री से कैसे गांव को बचाना है इसमें उनकी मदद करता है गांव का ही पंडित रुद्र (पंकज त्रिपाठी) जो स्त्री के बारे में सालों से किताबों में पढ़ता आ रहा है। अब विक्की, बिट्टी और रुद्र कैसे स्त्री को पकड़ते हैं और श्रद्धा कपूर का क्या होता था। ये आपको फिल्म देखने के बाद पता चलेगा। राजकुमार राव और पंकज त्रिपाठी एक फिर अपनी एक्टिंग से आपका दिल जीत लेंगे।

राजकुमार का देसी अंदाज आपको इंप्रेस कर देगा, उनका डरना भूतनी के साथ आमना-सामना आपको खूब हंसाएगा और डराएगा...वहीं श्रद्धा कपूर के साथ उनकी जोड़ी पहली बार जमी है और यकिन मानिए इसे बार फिर देखना चाहेंगे। फिल्म के गानें भी ठीक ठाक हैं। सबसे शानदार इसकी कहानी है, जो इंटरवल के बाद भी आपको प्रभावित करेगी। कहानी आपको बोर नहीं करेगी, ये आपको हंसाएगी, डराएगी और एंटरटेन भी करेगी तो 'स्त्री' को 3/5 स्टार। 

ये भी पढ़ें-प्रियंका चोपड़ा की मां ने निक की मॉम को सिखाया पंजाबी डांस ,वीडियो हुआ वायरल 

वहीं यमला पगला दीवाना फिर से में देओल्स फैमिली एक बाऱ नजर आई है, जिसमें यमला के रोल में धरमपाजी हैं। जिन्हें 80 साल की उम्र में ही सपनों में अप्सरा दिखती हैं वो रंगीन मिजाज इंसान हैं। वहीं पगला वैद्य पूरन (सनी देओल) के रोल में हैं जिनकी आयुद्वेदिक डॉक्टर है जिसके बाद कई बीमारियों के ठीक होने की दवा है। जो कम बोलते हैं लेकिन जब गुस्सा आता है तो फिर उनका ढाई किलो का हाथ उठ जाते हैं। वहीं दीवाना के रोल में बॉबी देओल हैं जिनका नाम काला हैं जो शादी करके कनाडा जाना चाहता है। इसी बीच वो पूरन से मिलता है लेकिन अचानक पूरन की दवाईयों का फॉर्मूला विदेशी लोग मांगते हैं, लेकिन वो देने से मना कर देता है फिर एक कंपनी वाला इसे पूरन के घर से चोरी करा के पेटेंट करा लेता है। पूरन अब अपने मकान में दशकों से रह रहे बूढ़े वकील किरायेदार परमार (धर्मेंद्र) के माध्यम से कोर्ट में केस लड़ता है।

जहां एंट्री होती है मस्ताना यानि सलमान खान और शत्रुघ्न सिंहा की। अब ये सब मिलकर पूरन की मदद कैसे करते हैं, इसके लिए आपको फिल्म देखनी पड़ेगी। कहानी काफी डामाडोल है इसमें एक्शन हैं ड्रामा है और रोमांस के साथ कॉमेडी का तड़का है लेकिन कहानी गायब है। वहीं देओल्स परिवार का जादू इस बार फीका नजर आता है फिल्म में एक्ट्रेस कृति खरवंदा हैं लेकिन वो ना के बराबर हैं वहीं बॉबी देओल को स्क्रीन ज्यादा दी है जो कि कॉमेडी पंचेस में फीके लगते हैं वहीं 60 साल के सनी देओल ढाई किलो का पॉवर दिखाते हैं। धर्मेंद्र को 82 साल की उम्र में रंगीन मिजाज रोल में देखना आपको अजीब लगेगा।

ये भी पढ़ें-बेबी बंप के साथ नेहा धूपिया ने किया पति संग रैम्प वॉक

साल 2011 में आई यमला पगला दीवाना, तीसरा पार्ट है। कहना गलत नहीं होगा कि ये फिल्म अपने पिछले दो पार्ट से काफी कमजोर हैं जबकि इसमें कई सितारों का कैमियो रोल है लेकिन अगर आप देओल्स परिवार के फैन है उनकी फिल्म देखना चाहते हैं तो ही आप इसे देखें...इस फिल्म को सिर्फ 2/5 स्टार।

वेब डेस्क IBC24


Download IBC24 Mobile Apps