रायपुर News

छत्तीसगढ़ के बड़े स्पंज आयरन कारोबारियों पर आयकर की दबिश, रायपुर-बिलासपुर के ठिकानों पर जांच

Created at - September 11, 2018, 10:06 am
Modified at - September 11, 2018, 10:06 am

 

रायपुर। छत्तीसगढ़ में आयकर विभाग ने प्रदेश के स्पंज आयरन कारोबारियों के ठिकानों पर दबिश दी है। जानकारी के मुताबिक मंगलवार सुबह जीके टीएमटी, रियल इस्पात और सुनील इस्पात के राजधानी रायपुर व बिलासपुर के कई ठिकानों पर जांच पड़ताल चल रही है। राजेश अग्रवाल के सिविल लाइन, अशोका रत्न स्थित ठिकानों सुनील इस्पात के मालिक नचरानी के रायपुर, बिलासपुर के दफ्तरों और फैक्ट्रियों में दस्तावेज खंगाले जा रहे हैं।

ये भी पढ़ें-रमन कैबिनेट का बड़ा फैसला, शहरी आबादी भूमि पर काबिज परिवारों को भी मकान, जानिए

आयकर अफसरों ने मंगलवार सुबह प्रदेश के उद्योगपतियों को निशाने पर लिया है। सुनील इस्पात के मालिक नचरानी के रायपुर, बिलासपुर समेत कई ऑफिस और फैक्ट्रियों में भी जांच पड़ताल की जा रही है। बताया जाता है कि सौ से ज्यादा आयकर अधिकारियों की टीम ने दबिश दी है। एक साथ इस कार्रवाई को अंजाम दिया जा रहा है। फैक्‍ट्री और ऑफिस को अंदर से बंद कर लिया गया है और जरूरी दस्‍तावेजों को खंगाले जा रहे है।

ये भी पढ़ें-इस तारीख के पहले कार्यरत शिक्षक संवर्ग (ननि) के लिए अंशदायी पेंशन योजना लागू,देखिए आदेश की कॉपी

इस कार्रवाई में मध्यप्रदेश और छत्तीसगढ़ के आयकर अफसर लगे हुए हैं। माना जा रहा है कि नोटबंदी और जीएसटी के इन उद्योगों पर आयकर की नजर थी। यहां बड़े पैमाने पर टैक्स चोरी की सूचना के आधार पर आयकर विभाग ने कार्रवाई की है। हालांकि जांच पड़ताल के बाद ही स्थिति स्पष्ट हो पाएगी। इस कार्रवाई के पूरा होने में दो-तीन का वक्त लग सकता है।

वेब डेस्क IBC24


Download IBC24 Mobile Apps

Trending News

Related News