News

बोहरा समाज की मस्जिद में पहुंचे मोदी, राष्ट्रभक्ति के प्रति समुदाय की भूमिका को बताया अहम

Created at - September 14, 2018, 6:14 pm
Modified at - September 14, 2018, 6:14 pm

इंदौर। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी शुक्रवार को इंदौर में बोहरा समाज की वाअज (प्रवचन) में शामिल होने के लिए पहुंचे। प्रधानमंत्री ने माणिकबाग स्थित सैफी मस्जिद चल रहे वाअज में कहा कि सैयदना साहब ने समाज को जीने की सीख दी। बोहरा समाज दुनिया को भारत की इस ताकत से परिचित करा रहा है। शांति-सद्भाव, सत्याग्रह और राष्ट्रभक्ति के प्रति बोहरा समाज की भूमिका महत्वपूर्ण रही है।

मोदी ने कहा कि, ‘आप सभी के बीच आना मुझे एक नया अनुभव देता है। मुझे बताया गया कि टेक्नोलॉजी के जरिए दुनिया के अलग-अलग सेंटरों में लोग जुड़े हुए हैं, उन्हें भी मैं नमन करता हूं। इमाम हुसैन के पवित्र संदेश को आपने दिल में उतारा। हुसैन ने अन्याय-अहंकार के खिलाफ आवाज बुलंद की थी। उन्होंने कहा, मुझे प्रसन्नता है कि बोहरा समाज का एक-एक जन इस मिशन से जुटा है। हमारे समाज की यही शक्ति है जो दूसरे देशों से अलग पहचान बनाती है

यह भी पढ़ें : इसरो जासूसी केस, सुप्रीम कोर्ट ने दिया दोषमुक्त वैज्ञानिक को 50 लाख मुआवजा देने का आदेश

प्रधानमंत्री ने कहा कि ‘अपने देश, मातृभूमि से प्रेम की सीख सैयदना साहब देते रहे हैं। सैयदना साहब ने गांधीजी के साथ मिलकर मूल्यों की स्थापना में अहम योगदान दिया था। दोनों की मुलाकात ट्रेन में कहीं हुई थी। इसके बाद दोनों के बीच संपर्क बना रहा। दोनों के बीच विचार-विमर्श और संवाद होता रहा। दांडी यात्रा के दौरान गांधीजी सैयदना साहब के घर सैफी विला में ठहरे थे। गांधीजी की मित्रता और मूल्यों के प्रति सम्मान व्यक्त करते हुए सैयदना साहब ने सैफी विला देश को दान कर दिया था

अशर-ए-मुबारका में पीएम मोदी ने कहा, 'इमाम हुसैन अमन और इंसाफ के लिए शहीद हो गए। उन्होने अन्याय और अत्याचार के विरुद्ध अपनी आवाज बुलंद की थी। उनकी सिखाई गई बातों की जितनी तब जरूरत थी, उससे ज्यादा आज है। हमें अपने अतीत पर गर्व है, वर्तमान पर विश्वास है और आने वाले कल के लिए हम आत्मविश्वास से भरे हुए हैं। बोहरा समाज के लोग विश्वभर में अपनी पहचान बना रहे हैं।'

उन्‍होंने कहा कि, 'मेरा सौभाग्य है कि आप सभी का साथ और विश्वास मेरे साथ है। जन्मदिन के पहले ही आपने मुझे देशहित के लिए दुआएं दी। मैं जब गुजरात में रहा तो बोहरा समाज ने मेरा साथ दिया और यहां इस पवित्र मंच से भी मुझे इतना प्यार मिला है

 बता दें कि इसी साल मध्यप्रदेश, राजस्थान, छत्तीसगढ़ और तेलंगाना में विधानसभा चुनाव हैं। इन चुनावों की वजह से प्रधानमंत्री के इस दौरे को राजनीतिक फायदे और चुनावी कैंपेन से जोड़कर देखा जा रहा है।

वेब डेस्क, IBC24


Download IBC24 Mobile Apps

Trending News

Related News