News

आतंक प्रभावित देशों में भारत तीसरे स्थान पर, सीपीआई-माओवादी चौथा सबसे खतरनाक आतंकी समूह

Created at - September 22, 2018, 1:49 pm
Modified at - September 22, 2018, 1:49 pm

वाशिंगटन। आतंक प्रभावित देशों की सूची में लगातार दूसरे साल भारत तीसरे स्थान पर है। इस सूची में इराक पहले नंबर पर है जबकि अफगानिस्तान दूसरे स्थान पर है। वहीं सबसे खतरनाक आतंकी समूह की लिस्ट में सीपीआई माओवादी चौथे स्थान पर है, इस्लामिक स्टेट, तालिबान और अल-शबाब को खतरनाक आतंकी समूहों में टॉप पर माना जाता है। अमेरिकी विदेश मंत्रालय ने ये आंकड़े जारी किए हैं।

वर्ष 2015 में आतंक से सबसे ज्यादा प्रभावित देशों में पाकिस्तान तीसरे नंबर पर था। अमेरिकी विदेश मंत्रालय की ओर से आतंकवाद और इसको जवाब को लेकर हुई एक स्टडी में यह दावा किया गया है कि 2017 में जम्मू-कश्मीर में आतंकी हमलों की संख्या में 24 फीसदी बढ़ोतरी हुई है। साथ ही, इन हमलों में मारे जाने वाले लोगों की संख्या में 89 प्रतिशत का इजाफा हुआ है। इस स्टडी में कहा गया है कि भारत में 2017 में हुए 860 आतंकी हमलों में कुल 25% अकेले जम्मू-कश्मीर में हुए हैं।

यह भी पढ़ें : आयुष्मान भारत योजना के खिलाफ क्यों हैं आईएमए, जानिए IMA को क्यों है आपत्ति

वहीं इस मामले में भारतीय अफसरों के मुताबिक भारत और पाकिस्तान के बीच आतंकवाद को लेकर बड़ा अंतर यह है कि भारत में अधिकांश आतंकी गतिविधि को समर्थन पाकिस्तान में मिलता है या वहां साजिश रची जाती है। पाकिस्तानी एजेंसी तथा सेना उसका समर्थन करती है। जबकि पाकिस्तान उन आतंकी संगठनों से हमले झेल रहा है जिसे उसने दशकों तक बढ़ावा दिया है।

अमेरिकी स्टडी में सीपीआई-माओवादी को विश्व का चौथा सबसे खतरनाक संगठन बताया गया है। इसमें आगे कहा गया है कि भारत में हुए 53 प्रतिशत हमलों में इसी संगठन का हाथ रहा है। अगर संख्या की बात की जाए तो भारत में 2016 और 2017 के बीच माओवादी हमलों में कमी आई है। हालांकि, मरने वालों की संख्या में 16 प्रतिशत की वृद्धि हुई है और घायलों की संख्या में 50 प्रतिशत की बढ़ोतरी हुई है।' माओवादियों ने 295 हमले किए हैं, जबकि अल-शबाब ने 353, तालिबान ने 703 और इस्लामिक स्टेट ने 857 हमले किए हैं।

वेब डेस्क, IBC24


Download IBC24 Mobile Apps