दुर्ग News

बीएसपी में बड़ा हादसा, 11 लोगों की मौत, दो दर्जन कर्मी घायल, इस्पात मंत्रालय ने मांगी रिपोर्ट

Created at - October 9, 2018, 12:43 pm
Modified at - October 10, 2018, 9:01 am

भिलाई। छत्तीसगढ़ के भिलाई में स्थित एशिया के सबसे बड़े स्टील प्लांट में मंगलवार को ब्लास्ट के कारण बड़ा हादसा हो गया। कोक ओवन की गैस पाइप लाइन में लीकेज के बाद हुए हादसे में मृतकों की संख्या बढ़कर 11 हो गई और करीब दो दर्जन कर्मचारी घायल हुए है। जिनका भिलाई और रायपुर के अस्पतालों में इलाज जारी है। दरअसल सुबह करीब 11 बजे भिलाई इस्पात संयंत्र में मेंटेनेंस के काम के दौरान अचानक कोक ओवन कि पाईप लाइन से मीथेन गैस रिसने लगी। जिससे जोरदार धमाका हुआ और प्लांट के अंदर अफरा तफरी मच गई, हादसे में मौके पर ही करीब 9 लोगों की मौत हो गई और कई झुलस हो गये। इलाज के दौरान 2 और लोगों की मौत हो गयी। 15 कर्मचारी बुरी तरह झुलस गये जिनका इलाज पंडित जवाहर लाल नेहरू चिकित्सालय एवं अनुसंधान केंद्र सेक्टर 9 के बर्न यूनिट में स्पेशलिस्ट डॉक्टरों की निगरानी में और रायपुर के अस्पताल में जारी है।

देखें वीडियो-

पढ़ें- मरीज को लेकर जा रही एंबुलेंस पत्थरों से भरे ट्रैक्टर-ट्रॉली में जा घुसी, 2 की मौत, 6 की हालत गंभीर

हादसे की जानकारी लगते ही अस्पताल पहुंचे केंद्रीय इस्पात राज्य मंत्री विष्णु देव साय ने बोकारो के डायरेक्टर पर्सनल की अगुवाई में इन्टरनल जांच टीम बनाने की बात कही। कमेटी एक हफ्ते के अंदर इस्पात मंत्रालय को रिपोर्ट सौंपेगी , वहीं इस्पात मंत्रालय की ओर से भी एक्सटर्नल जांच टीम गठित की जाएगी, हादसे में मृतकों के परिजनों को 20 लाख से 69 लाख तक की मुआवजा राशि दी जाएगी। इससे पहले भी मंत्री प्रेम प्रकाश पाण्डेय, विधायक विद्यारतन भसीन, अरुण वोरा, सेल के चेयरमेन अनिल चौधरी, इस्पात सचिव विनय समेत कई जन प्रतिनिधि हॉस्पिटल पहुंचे।

वेब डेस्क, IBC24


Download IBC24 Mobile Apps

Trending News

Related News