रोज योग करने के फायदे हैं अनेक

Reported By: Renu Nandi, Edited By: Renu Nandi

Published on 10 Oct 2018 06:06 PM, Updated On 10 Oct 2018 06:06 PM

तनाव से दूर

योगा तनाव से बचने या इसे दूर करने की बेस्ट मेडिसिन हैं। सुबह उठकर अगर आप प्राणायाम करते हैं तो इससे आपको बाकी के पूरे दिन तनाव महसूस नहीं होगा और रात को नींद भी अच्छी आएगी।

बुढ़ापे में भी रखता है स्वस्थ

नियमित रूप से योग करने पर आप बुढ़ापे में भी जवानी की तरह दुरुस्त रह सकते हैं। सर्वांगासन, सिंहासन, मत्स्येंद्रासन, भुजंगासन जैसे कुछ योगासन अपना कर आप अपनी त्वचा और स्किन का ग्लो बढ़ा सकते हैं।

 शुगर कंट्रोल

डायबिटीज के मरीजों के लिए तो योगा बेहद फायदेमंद है। दिन में सिर्फ एक बार योग करने से ही अपने डायबिटीज पर बिना किसी दवाई के कंट्रोल पा सकते हैं।

 वजन घटाने में मददगार

योगासन के रोजाना अभ्यास से शरीर से फैट कम होता। आपको बता दें कि जिम आदि से शरीर के किसी खास अंग की ही एक्सरसाइज हो पाती है, लेकिन योग से बॉडी के सारे पार्ट्स की एक्सरसाइज हो जाती है। इससे वजन ज्यादा तेजी से कम होता है।

बेहतर बल्ड सर्कुलेशन

बल्ड सर्कुलेशन को बेहतर बनाने के लिए भी आप योगासन कर सकते हैं। इसके लिए आप अनुलोम-विलोम कर सकते हैं। इससे फेफड़ों की ऑक्सीजन ग्रहण करने की क्षमता बढ़ती है, जिससे बॉडी में ऑक्सीजन की प्रॉपर सप्लाई होने से बल्ड सर्कुलेशन बढ़ता ही है। इससे साथ ही इससे आपकी हड्डियां भी मजबूत होती हैं।

छोटी-मोटी प्रॉब्लम भी रहती हैं दूर

फिट रखने के लिए आप कई तरह के योगासन कर सकते हैं, लेकिन कहा जाता है कि प्राणायाम के ढेरों फायदे हैं। प्राणायाम करने से दमा, एलर्जी, साइनोसाइटिस,पुराना नजला, जुकाम आदि रोगों से निजात पाया जा सकता है।

 दुरूस्त डाइजेशन सिस्टम

शरीर तभी फिट रह सकता है जब आपकी बॉडी का डाइजेशन सही हो ऐसे में योग करने से शरीर का डाइजेशन भी सही रहता है। योग करने से आपको समय पर भूख लगती है और समय पर खाना खाने आपका डाइजेशन भी बेहतर बना रहता है।

 बढ़ता है मेटाबॉलिज्म

नियमित रूप से योगा करने से आपका मेटाबॉलिज्म बढ़ता है। जब आप योग के बाद आराम करते हैं, उस समय भी कैलोरी बर्न होती है, जिससे शरीर में चर्बी नहीं बनती और वजन तेजी से कम होता है। इसलिए इसे नियमित रूप से अपनी दिनचर्या में शामिल करें।

मजबूत मांसपेशियां

नियमित रूप से योगा करने पर आपकी मांसपेशियां मजबूत होती हैं और शरीर में खून के बहाव भी बेहतर बना रहता है। इससे आप स्वस्थ तो रहते ही हैं साथ ही इससे सही ब्लड सप्लाई मिलने के कारण दिमाग भी सक्रिय रूप से कार्य करता है और दिमाग को नए ब्रेन सेल्स बनने में भी मदद मिलती है।

 ब्लड प्रैशर कंट्रोल

योगासन ब्लड प्रैशर को नियंत्रित करने में भी मददगार होता है। नियमित योगा करने से हाई ब्लड प्रैशर तकरीबन 75 प्रतिशत तक कम हो जता है। इसके अलावा सर्वांगासन और बालासन योग करने से लो ब्लड प्रैशर भी नार्मल रहता है।

वेब डेस्क IBC24

Web Title : yoga Tips For Health:

ibc-24