News

कौसानी से देख सकते हैं हिमालय की चोटियों को करीब से

Created at - July 5, 2015, 4:21 pm
Modified at - July 5, 2015, 4:21 pm

लाइफस्टाइल डेस्कः हिमालय की गोद में बसा सुंदर पर्वतीय स्थल कौसानी, अलमोड़ा से मात्र 52 किलोमीटर की दूरी पर है। समुद्र तल से इसकी ऊंचाई 1890 मीटर है। कौसानी आने वाले पर्यटक खासतौर से हिमालय की चोटियों के खूबसूरत नजारों को देखने आते हैं। इसके अलावा ये जगह मंदिरों, चाय के बागानों और आश्रमों के लिए भी जाना जाता है। कौसानी को भारत का स्विटजरलैंड भी कहा जाता है। प्रसिद्ध हिंदी कवि सुमित्रानंदन पंत की जन्मभूमि कौसानी ही है। इन सबके अलावा कौसानी में देखने लायक और भी बहुत कुछ है। हिमालय की सुंदरता कौसानी एक ओर सोमेश्वर तो दूसरी ओर गरुड़, बैजनाथ कत्यूरी घाटियों के बीच बसा है। इस कस्बे से आप हिमालय पर्वतमाला की नंदा देवी, माउंट त्रिशूल, नंदाकोट, नीलकंठ आदि चोटियों का अनोखा नजारा देख सकते हैं।अनासक्ति आश्रम कौसानी कस्बे के दो हिस्से हैं। ऊपरी हिस्से में अनासक्ति आश्रम और होटल हैं और नीचे के इलाके में यहां का मुख्य बाजार। आश्रम के मुख्य हॉल में गांधी जी के कौसानी रहने के दौरान की कुछ तस्वीरें लगी हुई हैं। महात्मा गांधी 1929 में कौसानी के अनासक्ति आश्रम में आए और यहां रुककर उन्होंने गीता के श्लोकों का सरल अनुवाद किया था जिसे ‘अनासक्ति योग’ का नाम दिया गया था। इस आश्रम में एक ऐसा कमरा है जहां रोजाना शाम को भजन का कार्यक्रम होता है, जिसमें शामिल होकर मन को सुकून और शांति मिलती है।


Download IBC24 Mobile Apps

Trending News

IBC24 SwarnaSharda Scholarship 2018

Related News