बिजली संशोधन विधेयक के खिलाफ बिजली क्षेत्र के 15 लाख कर्मचारी विरोध-प्रदर्शन करेंगे

बिजली संशोधन विधेयक के खिलाफ बिजली क्षेत्र के 15 लाख कर्मचारी विरोध-प्रदर्शन करेंगे

Edited By: , November 29, 2021 / 06:17 PM IST

नयी दिल्ली, 29 नवंबर (भाषा) ऑल इंडिया पावर इंजीनियर्स फेडरेशन (एआईपीईएफ) ने सोमवार को कहा कि संसद के मौजूदा सत्र में बिजली संशोधन विधेयक-2021 के पेश किए जाने के साथ बिजली क्षेत्र के 15 लाख इंजीनियर और कर्मचारी देशव्यापी विरोध प्रदर्शन करेंगे।

एआईपीईएफ ने एक बयान में कहा, ‘‘बिजली (संशोधन) विधेयक-2021 के संसद में पेश किये जाने के साथ बिजली क्षेत्र से जुड़े 15 लाख कर्मचारी राष्ट्रव्यापी स्तर पर पूरा दिन विरोध-प्रदर्शन करेंगे।’’

बयान के अनुसार, बिजली कर्मचारियों और इंजीनियरों की राष्ट्रीय समन्वय समिति ने भी बिजली क्षेत्र के कर्मचारियों को इस विधेयक के संसद में पेश किये जाने को लेकर सतर्क रहने और इसे पारित करने के केंद्र सरकार के किसी भी कदम के खिलाफ प्रदर्शन करने का आह्वान किया है।

एआईपीईएफ ने कहा कि संसद के शीतकालीन सत्र के एजेंडा के अनुसार, बिजली संशोधन विधेयक-2021 को संसद के चालू सत्र में ही पेश किया जाएगा।

भाषा जतिन अजय

अजय