उ. बंगाल में चाय बागान मजदूरों ने न्यूनतम मजदूरी की मांग को लेकर विरोध-प्रदर्शन किया

उ. बंगाल में चाय बागान मजदूरों ने न्यूनतम मजदूरी की मांग को लेकर विरोध-प्रदर्शन किया

Edited By: , November 24, 2021 / 04:58 PM IST

जलपाईगुड़ी, 24 नवंबर (भाषा) पश्चिम बंगाल के जलपाईगुड़ी और अलीपुरद्वार जिलों में चाय बागान श्रमिकों ने जनवरी, 2022 से न्यूनतम मजदूरी लागू करने की मांग को लेकर बुधवार को विरोध-प्रदर्शन किया।

इस क्षेत्र की ट्रेड यूनियनों के संयुक्त मंच ने विरोध-प्रदर्शन का आह्वान किया था। उनका आरोप था कि न्यूनतम मजदूरी का मुद्दा हल नहीं हुआ है और श्रमिकों को आर्थिक रूप से नुकसान हो रहा है।

उत्तरी बंगाल में चाय श्रमिकों को अब 15 प्रतिशत अंतरिम वृद्धि के बाद अब 202 रुपये की दैनिक मजदूरी मिल रहा है। एक ट्रेड यूनियन नेता ने कहा कि यह वृद्धि जनवरी में की गई थी।

भारतीय चाय संघ के महासचिव पी के भट्टाचार्य ने कहा कि न्यूनतम मजदूरी पर एक सलाहकार पैनल के सदस्य इस मुद्दे पर फैसला करने के लिए एक दिसंबर को बैठक करेंगे।

ट्रेड यूनियनों के संयुक्त मंच के संयोजक जियाउल आलम ने आरोप लगाया था कि पश्चिम बंगाल सरकार द्वारा न्यूनतम दैनिक मजदूरी को वर्ष 2014 से अंतिम रूप नहीं दिया गया है। उन्होंने कहा कि इस मुद्दे पर गौर करने के लिए तृणमूल कांग्रेस सरकार द्वारा गठित सलाहकार पैनल ने 2018 में एक रिपोर्ट सौंपी थी, लेकिन इसे रोक दिया गया था।

भाषा राजेश राजेश अजय

अजय