अच्छा नागरिक होने का मतलब समाज को अपना मानना है : नारायण मूर्ति

अच्छा नागरिक होने का मतलब समाज को अपना मानना है : नारायण मूर्ति

Edited By: , October 20, 2021 / 10:42 PM IST

भुवनेश्वर, 20 अक्टूबर (भाषा) इन्फोसिस के सह-संस्थापक नारायण मूर्ति ने मंगलवार को कहा कि एक अच्छा नागरिक होने का मतलब समाज को अपना मानना ​​है।

वर्चुअल तरीके से आईआईटी भुवनेश्वर के 10वें वार्षिक दीक्षांत समारोह में बोलते हुए, मूर्ति ने रेखांकित किया कि देश में गरीबी को दूर करने का एकमात्र तरीका बेहतर आय के साथ अधिक से अधिक रोजगार सृजित करना है।

मूर्ति ने अपने संबोधन में कहा, ‘‘युवाओं की शक्ति, मूल्यों, आकांक्षाओं, ऊर्जा, आत्मविश्वास, दृढ़ संकल्प, अनुशासन और उत्साह में मुझे जबर्दस्त भरोसा है।’’

75 वर्षीय मूर्ति ने कहा, ‘‘लेकिन फिर, इसके लिए जरूरी है कि आप लोग कुछ बेहतर सोचें, कुछ आत्मनिरीक्षण करें और जो पिछली पीढ़ियों ने नहीं किया है उसे करने के लिए दृढ़ संकल्पित हों।’’

उन्होंने एक सभ्य समाज बनाने की आवश्यकता पर जोर दिया जहां प्रत्येक नागरिक को बेहतर जीवन के लिए समान अवसर मिले, प्रत्येक बच्चे के पास भोजन, आश्रय, स्वास्थ्य देखभाल और शिक्षा की सुविधा हो और एक ऐसा समाज जो खाली नारों के बजाय प्रदर्शन पर केंद्रित हो।

भाषा कृष्ण कृष्ण अजय

अजय