‘जल्दी ही 4,000 मेगावाट घंटा क्षमता की बैटरी भंडारण परियोजनाओं के लिये बोली आमंत्रित की जाएगी’

‘जल्दी ही 4,000 मेगावाट घंटा क्षमता की बैटरी भंडारण परियोजनाओं के लिये बोली आमंत्रित की जाएगी’

Edited By: , September 17, 2021 / 12:13 AM IST

नयी दिल्ली, 16 सितंबर (भाषा) बिजली मंत्री आर के सिंह ने बृहस्पतिवार को कहा कि भारत जल्दी ही कुल 4,000 मेगावाट घंटा क्षमता की बैटरी भंडारण परियोजनाओं के लिये वैश्विक स्तर पर बोली आमंत्रित करेगा।

विद्युत मंत्रालय ने एक बयान में कहा कि सिंह ने अमेरिका-भारत रणनीतिक भागीदारी मंच और उद्योग प्रमुखों की ‘वर्चुअल’ ऊर्जा उद्योग गोलमेज बैठक को संबोधित करते हुए यह घोषणा की।

उन्होंने कहा कि 12,000 मेगावाट घंटा क्षमता की बैटरी परियोजना लद्दाख में स्थापित की जाएगी।

बयान में सिंह के हवाले से कहा गया है, ‘‘निकट भविष्य में भारत बैटरी भंडारण प्रणाली स्थापित करने को लेकर वैश्विक और घरेलू विनिर्माताओं से बोली आमंत्रित करेगा … जल्दी ही 4,000 मेगावाट घंटा क्षमता की बैटरी ऊर्जा भंडारण प्रणाली के लिये बोली आमंत्रित की जाएगी।’’

भारत ने 2022 तक 1,75,000 मेगावाट नवीकरणीय ऊर्जा क्षमता हासिल करने और 2030 तक 4,50,000 मेगावाट क्षमता हासिल करने का महत्वकांक्षी लक्ष्य रखा है।

बयान के मुताबिक वर्तमान में भारत के पास 1,00,000 मेगावाट की स्थापित सौर और पवन ऊर्जा क्षमता है और इसमें यदि जलविद्युत क्षमता को भी जोड़ दिया जाये तो कुल स्थापित क्षमता 1,46,000 मेगावाट तक पहुंच जाती है।

सिंह ने कहा कि इसके साथ ही 63,000 मेगावाट की अन्य नवीकरणीय ऊर्जा परियोजनाओं निर्माणाधीन हैं।

भाषा

रमण महाबीर

महाबीर