मैक्रोटेक डेवलपर्स पर कर्ज का बोझ पहली तिमाही में 23 प्रतिशत घटकर 12,435 करोड़ रुपये

मैक्रोटेक डेवलपर्स पर कर्ज का बोझ पहली तिमाही में 23 प्रतिशत घटकर 12,435 करोड़ रुपये

Edited By: , July 31, 2021 / 01:34 PM IST

नयी दिल्ली, 31 जुलाई (भाषा) रियल एस्टेट कंपनी मैक्रोटेक डेवलपर्स पर शुद्ध रूप से कर्ज का बोझ चालू वित्त वर्ष की जून में समाप्त पहली तिमाही में 23 प्रतिशत घटकर 12,435 करोड़ रुपये रह गया। कंपनी ने अपने कर्ज को कम कर 10,000 करोड़ रुपये से नीचे लाने का लक्ष्य रखा है।

निवेशकों के समक्ष प्रस्तुतीकरण में मैक्रोटेक डेवलपर्स ने कहा कि जून तिमाही के अंत तक उसपर शुद्ध रूप से 12,435 करोड़ रुपये का कर्ज था। 31 मार्च, 2021 तक यह 16,076 करोड़ रुपये था। कंपनी अपनी संपत्तियों का विपणन लोढ़ा ब्रांड नाम से करती है।

मैक्रोटेक डेवलपर्स के प्रबंध निदेशक एवं मुख्य कार्यपालक अधिकारी (सीईओ) अभिषेक लोढ़ा ने पीटीआई-भाषा से कहा, ‘‘हम चालू वित्त वर्ष के अंत तक अपने कर्ज को 10,000 करोड़ रुपये से नीचे लाने के लिए सही राह पर हैं।’’

प्रस्तुतीकरण में कंपनी ने कहा कि उसके कर्ज की औसत लागत जून तक 0.7 प्रतिशत घटकर 11.6 प्रतिशत पर आ गई है। मार्च, 2021 तक यह 12.3 प्रतिशत थी।

मैक्रोटेक डेवलपर्स आरंभिक सार्वजनिक निर्गम (आईपीओ) के जरिये 2,500 करोड़ रुपये जुटाने के बाद अप्रैल में सूचीबद्ध हुई थी। चालू वित्त वर्ष की पहली तिमाही में घर खरीदारों से कंपनी का संग्रह चार गुना होकर 1,714 करोड़ रुपये पर पहुंच गया, जो एक साल पहले समान तिमाही में 384 करोड़ रुपये था।

भाषा अजय अजय प्रणव

प्रणव