मुख्यमंत्री मान के गांव से धान की सीधी बुआई शुरू

मुख्यमंत्री मान के गांव से धान की सीधी बुआई शुरू

: , May 16, 2022 / 09:07 PM IST

चंडीगढ़, 16 मई (भाषा) पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत मान के संगरुर जिले में स्थित पैतृक गांव से धान की सीधी बुआई (डीएसआर) का अभियान शुरू हो गया है। रविवार को इसकी शुरुआत मान की मां हरपाल कौर और कृषि विभाग के अधिकारियों की मौजूदगी में हुई।

मान डीएसआर तकनीक को अपनाने के लिए उत्पादकों से आग्रह कर रहे हैं क्योंकि यह भूमिगत जल स्तर में आई कमी पर रोक लगाता है। उन्होंने डीएसआर तकनीक का विकल्प चुनने वाले किसानों के लिए 1,500 रुपये प्रति एकड़ सहायता की भी घोषणा की थी।

डीएसआर तकनीक के तहत धान के बीजों को एक मशीन की मदद से खेत में ड्रिल किया जाता है जो धान की बुआई और शाकनाशी का छिड़काव एक साथ करती है।

पारंपरिक विधि के अनुसार, पहले धान के पौधे नर्सरी में उगाए जाते हैं और फिर इन पौधों को उखाड़कर पानी के जमाव वाले खेत में प्रत्यारोपित किया जाता है।

कुछ दिन पहले मान ने अपने गांव का दौरा किया था और फिर किसानों से इस साल धान की सीधी बुआई अपनाने का आग्रह किया था।

उन्होंने कहा, ‘‘मैं चाहता हूं कि मेरे गांव के लोग पंजाब के पानी को बचाना शुरू करें। यह पूरे पंजाब में एक सकारात्मक उदाहरण स्थापित करेगा क्योंकि सीएम मान के गांव के किसान पंजाब के मूल्यवान भूजल को बचाने की कोशिश करेंगे तो बाकी किसान भी इसका पालन करेंगे।’’

कृषि विभाग के एक अधिकारी जसविंदर पाल सिंह ग्रेवाल ने कहा कि धान की सीधी बुवाई के लिए पूरे पंजाब में नोडल अधिकारी नियुक्त किए गए हैं। वे किसानों को इसके तरीकों और फायदों के बारे में बता रहे हैं।

सिंह के हवाले से एक बयान में कहा गया, ‘‘पिछले सत्र में राज्य भर में छह लाख हेक्टेयर में सीधे धान की बुआई की गई थी। इस बार सरकार का लक्ष्य इसे बढ़ाकर 12 लाख हेक्टेयर करना है।’’

मान की मां हरपाल कौर ने किसानों को प्रेरित करते हुए कहा, ‘हमने तो अपनी जिंदगी जी ली, लेकिन भविष्य में हमारे बच्चे हमसे भूजल स्तर के बारे में सवाल करेंगे। इसलिए पंजाब सरकार ने सीधी बुआई की इस तकनीक को अपनाया है। पंजाब सरकार और किसानों ने पानी के संरक्षण के लिए एक उत्कृष्ट प्रयास किया।’’

भाषा राजेश राजेश प्रेम

प्रेम

 

(इस खबर को IBC24 टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)