खाद्य प्रदर्शनी में विदेशी, घरेलू कंपनियां शामिल: टीपीसीआई

खाद्य प्रदर्शनी में विदेशी, घरेलू कंपनियां शामिल: टीपीसीआई

Edited By: , January 14, 2022 / 09:54 PM IST

नयी दिल्ली, 14 जनवरी (भाषा) राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली के समीप ग्रेटर नोएडा में 10 जनवरी को संपन्न हुए तीन दिवसीय खाद्य प्रदर्शनी में 350 से अधिक घरेलू निर्यातकों और विभिन्न देशों के 800 से अधिक खरीदारों ने हिस्सा लिया। भारतीय व्यापार संवर्धन परिषद (टीपीसीआई) ने शुक्रवार को यह जानकारी दी।

टीपीसीआई ने यह भी बताया कि ‘इंडसफूड 2022’ के पांचवें संस्करण वाले खाद्य प्रदर्शनी के दौरान लगभग एक अरब डॉलर के व्यावसायिक सौदे हुए। इस ‘फूड शो’ को सरकार द्वारा कोविड ‘प्रोटोकॉल’ (नियम कायदे) के तहत आयोजित किया गया था।

प्रदर्शनी में भाग लेने वाले कुछ प्रमुख खरीदारों, सुपरमार्केट और वितरकों में नेस्टो हाइपरमार्केट (जीसीसी), गाला (यूएई), ग्रैंड हाइपरमार्केट (जीसीसी), जलील कैश एंड कैरी (यूएई), नेशनल फूड कंपनी (सऊदी अरब), फॉर्च्यून फाइव शामिल थे।

प्रदर्शनी में संयुक्त अरब अमीरात, सऊदी अरब, कनाडा, अमेरिका, मिस्र और बांग्लादेश सहित विभिन्न देशों के खरीदारों ने भाग लिया।

रसायन और उर्वरक राज्य मंत्री भगवंत खुबा ने ग्रेटर नोएडा में आठ जनवरी को इंडिया एक्सपोज़िशन मार्ट प्रदर्शनी का उद्घाटन किया था।

बयान में मंत्री के हवाले से कहा गया, ‘‘दुनिया भर में भारत के उत्पादों को तरजीह दी जा रही है..दुनिया जो कुछ भी मांगती है, हम उसे पूरा कर सकते हैं।’’

टीपीसीआई की खाद्य और पेय समिति के अध्यक्ष विवेक अग्रवाल ने कहा कि भारत के कृषि और प्रसंस्कृत खाद्य उत्पादों का निर्यात अप्रैल-दिसंबर 2021-22 में 2020-21 की समान अवधि की तुलना में 20 प्रतिशत से अधिक बढ़ा है।

खाद्य उत्पादों के वैश्विक निर्यात में भारत का केवल 2 प्रतिशत हिस्सा है। इसलिए, इस क्षेत्र में शीर्ष 10 सबसे बड़े वैश्विक बाजारों में शामिल होने की इसकी काफी संभावनाएं हैं।

भाषा राजेश राजेश रमण

रमण